Saturday, April 20, 2024
HomeLatest Newsओमकारा महादेवा महोत्सव में कवि सम्मेलन का आयोजन

ओमकारा महादेवा महोत्सव में कवि सम्मेलन का आयोजन

 

             नारद संवाद  एडिटर कृष्ण कुमार शुक्ल

रामनगर बाराबंकी।महादेवा महोत्सव की सांस्कृतिक मंच पर देश के नाम चीन कवियों ने काव्य पाठ से सभी को भावविभोर कर दिया। सर्व प्रथम उपनिदेश पर्यटन राजेन्द्र कुमार, पूर्व विधायक शरद अवस्थी,प्रमुख संजय तिवारी,एस डी एम तान्या ने दीप प्रज्वलित कर कवि सम्मेलन का उद्घाटन किया। सभी कवियों को अंगवस्त्रम व प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित  किया गया। कवि गजेंद्र प्रियांशु ने मां सरस्वती की आराधना इस प्रकार कि अंधेरा छा रहा हो। यह जीवन जा रहा हो।मेरे मन मानस में उस छड़ भी तुम्हारी कल्पना हो। मैं जो भी गुनगुनाऊँ वह तुम्हारी बंदना हो। प्रताप गढ़ से आई कवि साक्षी तिवारी ने शहीदों का रगों में जब तलक बलिदान ज़िंदा है, समूचे विश्व में माँ भारती का मान ज़िंदा है’ रचना पढ़ी तो पंडाल में बैठे दर्शक तालियां बजाने लगे। उसके बाद बाराबंकी से आए कवि गजेंद्र प्रियांशु ने अपनी कविता इस प्रकार पढ़ी

क्या था करने गया और क्या कर रहा,

एक आख्यान की आख्या कर रहा,

है अजब शेर के राज में एक गधा,

राम के नाम की व्याख्या कर रहा सुनाया तो लोगों ने खूब तालियां बजाई। बनारस से आए कवि डॉ अनिल चौबे ने भगवान राम पर अपनी कविता कुछ यूं पढ़ी राम के सभी हैं और सबके लिए हैं राम राम जनमानस का पुण्य परिणाम हैं। निर्धनों के धन राम निर्बलों के बल राम दीन दुःखियों के लिए राम सुख धाम हैं।

 कवयित्री सुमित्रा सरल रतलाम ने सुनाया भोला सा दिल मेरा कहीं फरार हो गया 

अब आ गया यकी मुझे कि प्यार हो गया।

कवि रमेश विश्वहार ने सुनाया

 आपसे रस्मों राह कर लेंगे

दिल की दुनियां तबाह कर लेंगे

हम कहीं देवता ना हो जाएं

एहतियातन गुनाह कर लें गेइसके आलावा विकास बौखल,मानसी द्विवेदी आदि ने भी काव्य पाठ किया। इस मौके पर ब्लॉक प्रमुख पंडित संजय तिवारी  नायब तहसीलदार अभिषेक यदुवंशी, कमलेश शुक्ल, अजय पांडेय, शिवम मिश्रा, अजय सिंह, योगेश, शेखर हरायण आदि लोग उपस्थित रहे।

अन्य खबरे

यह भी पढ़े