Naradsamvad

जिलाधिकारी सत्येंद्र कुमार की अध्यक्षता में लोधेश्वर महादेवा में लगने वाले श्रावण मास मेले की तैयारियों से संबंधित बैठक संपन्न

 

संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए जिला अधिकारी सत्येंद्र कुमार

 

नारद संवाद,बाराबंकी।जिलाधिकारी सत्येंद्र कुमार ने कहा कि बैरिकेडिंग के कार्यों की व्यवस्था सुरक्षा मानकों को दृष्टिगत रखते हुए की जाए।उन्होंने कहा कि बैरिकेडिंग की बल्लियों के बीच में लोहे की मजबूत जाली का प्रयोग अवश्य किया जाए। उन्होंने कहा कि दूर दराज से आने वाले श्रद्धालुओं के वाहनों की पार्किंग पूर्व की भांति चयनित स्थलों पर की जाए। इसके साथ ही पार्किंग स्थल की बैरिकेडिंग व प्रकाश की समुचित व्यवस्था भी की जाए। उन्होंने उप जिलाधिकारी रामनगर पवन कुमार को आगामी 22 जुलाई से चलने वाले श्रावण मास मेला को सकुशल एवं शांतिपूर्ण वातावरण में संपन्न कराए जाने हेतु सभी व्यवस्थाओं को नियमित मॉनिटरिंग करने के लिए निर्देशित किया। जिलाधिकारी सत्येंद्र कुमार बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में महादेवा श्रावणी मास मेला की तैयारियों के संबंध में आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी (वि. रा.) अरुण कुमार, अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी चिरंजीव सिन्हा, सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।जिलाधिकारी ने कहा कि बोहनिया तालाब और अभरन तालाब पर व उसके आसपास प्रकाश की समुचित व्यवस्था कराई जाए तथा रात्रि में विद्युत आपूर्ति निर्बाध रूप से बनी रहे। इसके साथ ही जनरेटर की भी वैकल्पिक व्यवस्था की जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि अभरन तालाब के चारों ओर किसी भी प्रकार का अतिक्रमण न होने पाए। जिलाधिकारी ने कहा कि मेला क्षेत्र में आने वाले श्रद्धालुओं को पर्याप्त चिकित्सा सुविधा की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि मेला क्षेत्र में जिन नालियों पर ढकें पत्थर टूट गए हैं, उन नालियों को पत्थर से ढकने की कार्रवाई की जाए। इसके साथी जो नल खराब हो चुके हैं, उनको दुरुस्त करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गए।
जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी रामनगर को आगामी महादेवा मेला के दौरान होने वाली सभी आवश्यक व्यवस्थाओं की एक कार्ययोजना बनाकर डायग्राम के रूप में तैयार करने के निर्देश दिए, जिससे इन सभी आवश्यक व्यवस्थाओं को महादेवा कॉरिडोर के प्रोजेक्ट में समाहित किया जा सके।बैठक के दौरान खाद्य पदार्थ की जांच , पेयजल की व्यवस्था, विद्युत व प्रकाश की व्यवस्था, मेला में विक्रय सामग्री के रेट का निर्धारण, मेला परिसर में सांड एवं छुट्टा जानवरों को हटवाया जाना, दुकानों को सुव्यवस्थित ढंग से लगवाने, अवैध अतिक्रमण हटवाने की कार्रवाई आदि विभिन्न बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गई।बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार सिंह ने संबन्धित को निर्देशित करते हुए कहा कि मेले परिसर में जो भी दुकान लगाई जाए, उन समस्त दुकानों पर दुकानदार का नाम व पता पहचान पत्र सहित रेट बोर्ड लगवाने की कार्रवाई की जाए।

अन्य खबरे

गोल्ड एंड सिल्वर

Our Visitors

201444
Total Visitors
error: Content is protected !!