Naradsamvad

स्वाट सर्विलांस व थाना कोतवाली नगर की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा डकैती चोरी की योजना बना रहे आठ लोगों को चन्दन की लकड़ी, स्मैक व तमंचा के साथ किया गया गिरफ्तार

 

 

चंदन की लकड़ी के साथ गिरफ्तार किए गए शातिर अपराधी

 बाराबंकी।पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार सिंह द्वारा जनपद में अपराध पर प्रभावी नियंत्रण लगाने हेतु अपराधियों के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी चिरंजीव नाथ सिन्हा के निर्देशन व क्षेत्राधिकारी नगर जगतराम कनौजिया के पर्यवेक्षण में स्वाट/सर्विलांस व थाना कोतवाली नगर पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा मैनुअल इंटेलीजेन्स व डिजिटल डेटा के आधार पर डकैती चोरी की योजना बना रहे अभियुक्तगण अरकाश पुत्र अजय कुमार,अजय कुमार पुत्र कोचिस,जलबाज पुत्र अजय कुमार,खेलवर पुत्र जानी,संजू पुत्र मन्टु,एलवर पुत्र अर्जुन,अर्जुन पुत्र कुंजीलाल,जरकास पुत्र दरकास को बुधवार को ओबरी जंगल के पास से गिरफ्तार कर,एक बाल अपचारी को संरक्षण में लेकर लिया गया। अभियुक्त की निशादेही पर ओबरी जंगल से चन्दन की लकड़ी के 05 बोटे व कब्जे से कुल 590 ग्राम अवैध स्मैक, 01 अदद तमंचा .12 बोर व 03 अदद जिन्दा कारतूस .12 बोर, 03 अदद नाजायज चाकू, 02 अदद लकड़ी काटने की आरी, 08 अदद आला नकब, 03 अदद लकड़ी का डण्डा, 04 अदद गुलेल, 01 अदद सफेद धातु की सिल्ली बरामद किया गया। थाना कोतवाली नगर पर मु0अ0सं0 562/2024 धारा 399/402 भादवि0, 3/4/25 आर्म्स एक्ट व 8/21 एनडीपीएस एक्ट पंजीकृत किया गया।पुलिस की पूछताछ में अभियुक्त परादी गैंग के सदस्य हैं तथा एक जगह स्थायी निवास नहीं करते हैं। गिरफ्तार अभियुक्त मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं तथा कस्बों गांवों आदि में घूम फिरके रेकी करते हैं तथा योजनाबध्द तरीके से घटना को अंजाम देते हैं।कोतवाली नगर क्षेत्र से चन्दन के 03 हरे पेड़ काटे गए थे जिस सम्बन्ध में थाना कोतवाली नगग पर मु0अ0सं0 557/2024 धारा 379/411 भादवि0 व 4/10 वन संरक्षण अधिनियम पंजीकृत है। तथा माह फरवरी में दक्षिण टोला बंकी, आर्मी क्षेत्र की बाउण्ड्री के पीछे बने मकानों का ताला तोड़कर नकदी व जेवरात व अन्य सामान चोरी कर लिया था जिस सम्बन्ध में थाना कोतवाली नगर पर मु0अ0सं0 197/2024 धारा 380/457/411 भादवि0 पंजीकृत है। चोरी की घटना से प्राप्त चांदी के जेवरात की सिल्ली बना लिया था और इसको बेचना चाह रहे थे किन्तु इसे बेच नहीं पाए थे। अभियुक्तगण घटना कारित करने के उपरान्त प्राप्त रुपयों को आपस में बांट लेते हैं तथा सामान को चलते फिरते लोगों को सस्ते दामों पर बेंच देते हैं।उत्साहवर्धन हेतु पुलिस अधीक्षक बाराबंकी के द्वारा पुलिस टीम को 20 हजार रुपये के नकद पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया।

अन्य खबरे

गोल्ड एंड सिल्वर

Our Visitors

201758
Total Visitors
error: Content is protected !!