Naradsamvad

लोकसभा चुनाव 253 बाराबंकी में 66.89% शांति पूर्ण मतदान हुआ संपन्न

98 साल की वृद्ध महिला रामावती ने मतदान कर किया आश्चर्यचकित

बाराबंकी। लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2024 की सुरक्षित सीट बाराबंकी लोकसभा 53 के चुनाव का मतदान आज सुबह 7:00 बजे से शुरू होकर शाम के 6:00 बजे तक शांतिपूर्ण ढंग से चलता रहा। सुबह के समय रामनगर तहसील के 76 ग्राम पंचायतों में मतदान शुरू हुआ।मतदाताओं में वोट डालने के लिए लंबी लंबी लाइन बूथों पर लगी रही। रामनगर नगर पंचायत में शांतिपूर्ण ढंग से मतदान चलता रहा।18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले युवक एवं युवती पहली बार वोट डालकर एक दूसरे से खुशी जाहिर की।नव विवाहित जोड़ा ने भी पहली बार लोकसभा चुनाव में मतदान कर प्रसन्न दिखे।रामनगर के कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय के बूथ संख्या 233 , 234 व प्राथमिक विद्यालय के 238,239 बूथों पर लंबी लाइनों में मतदान चलता रहा।जनक दुलारी पत्नी हरिशंकर उम्र 65 वर्ष ने मतदान कर खुशी जाहिर की।बूथ संख्या 230, 231 ब्लॉक सभागार रामनगर में चल रहे मतदान में पहली बार मतदान करने नव विवाहित महिला विनीता ने कहा प्रथम बार मतदान करके बहुत अच्छा लग रहा महिला सुरक्षा विकास को वोट कर रही है।कादीराबाद रामनगर एक निवासी 90 वर्षीय पांचू गौतम अपनी 85 वर्षीया पत्नी पार्वती के साथ मतदान कर युवा मतदांताओं को आश्चर्य चकित कर दिया। प्राथमिक विद्यालय हरि नारायणपुर मड़ना की 90 वर्षीया वृद्ध महिला बृजरानी सिंह पत्नी महादेव सिंह ने मतदान कर लोगों को घर से निकलने के लिए मजबूर कर दिया। ग्राम पंचायत मढ़ना की निशा मनीषा पुत्री विनोद ने पहली बार मतदान किया जिससे उनके चेहरे पर हंसी नजर आई।गणेशपुर कस्बा के बूथ संख्या 257, 258 में पहली बार मतदान करने वाली पलक सोनी अंशिका मिश्रा सुधांशु त्रिवेदी ने राम मंदिर के नाम पर प्रथम बार मतदान किया।बडनपुर प्राइमरी स्कूल के बूथ संख्या 253, 254, 255 पर लंबी-लंबी लाइनों में मतदान चलता रहा। ग्राम पंचायत मीतपुर के प्राइमरी स्कूल में बूथ संख्या 250 पीठासीन अधिकारी ताज मोहम्मद की उदासीनता मतदान में व्यवधान डालने व आधार कार्ड निर्वाचन कार्ड मतदाताओं से एक साथ लाने के लिए कहने पर बहुत ही धीमी गति से मतदान चला। जिसकी शिकायत उप जिला अधिकारी रामनगर पवन कुमार सेक्टर मजिस्ट्रेट से की गई तो वह मौके पर पहुंचे और एक अतिरिक्त कर्मचारियों की ड्यूटी पीठासीन अधिकारी के साथ लगाकर निर्वाचन आयोग के निर्देशों का पालन करने के हिदायत देकर सुचारू रूप से मतदान शुरू कराया। प्राथमिक विद्यालय लोहटी जई के बूथ संख्या 249 पर रामनाथ यादव,मोहम्मद सुहैल,पायल शुक्ला,शिवानी,सुभाष त्रिवेदी ने प्रथम बार मतदान किया।प्राथमिक विद्यालय अकोहरा की वृद्ध रामवती पत्नी झरियक उम्र 94 साल ने मतदान कर युवाओं को मतदान करने पर मजबूर कर दिया।दोपहर के 3:00 बूथों पर सन्नाटा छा गया। 4:00 के बाद मतदान फिर चालू हुआ और 6:00 बजे तक चलता रहा। ग्राम पंचायत कटियार के बूथ संख्या 167 पर करीब 12:30 बजे ईवीएम मशीन में तकनीकी खराबी के कारण करीब आधे घंटे बाद मतदान बाधित रहा। मशीन सही होने के बाद करीब 1:05 पर पुनः मतदान शुरू कराया गया।रामनगर विधानसभा 267 में कुल 66.89% मतदान हुआ। इसी प्रकार विधानसभा 268 सदर बाराबंकी 65.7% मतदान हुआ। विधानसभा 269 कुर्सी 70.45 प्रतिशत मतदान हुआ।विधानसभा 269 जैदपुर 68% मतदान हुआ। विधानसभा 272 हैदरगढ़ 63.36 प्रतिशत मतदान हुआ। इस प्रकार पूरे बाराबंकी में कुल मतदान प्रतिशत 66.89% रहा।
पिंक बूथ लोकसभा सामान निर्वाचन मेरा वोट मेरा अधिकार नहीं रुकेंगे वोट करेंगे बूथ संख्या 394 पर आनंद विहार कॉलोनी के जागरूक मतदाता प्रोफेसर अर्थशास्त्री समाजसेवी डॉक्टर नरेश चंद्र त्रिपाठी अपनी पत्नी माधुरी त्रिपाठी के साथ मतदान करके सेल्फी पॉइंट पर सेल्फी लेकर भागीदारी सुनिश्चित की।

मार्ग के निर्माण की मांग पूरी न होने से नाराज ग्रामीणों ने सुबह से ही वोट बहिष्कार किया, अधिकारियों के निर्देशों बाद 5 घंटे विलंब से मतदान हुआ चालू:

तहसील क्षेत्र के सरयू नदी की तलहटी में बसे ग्राम खुज्जी में मार्ग के निर्माण की मांग पूरी न होने से नाराज ग्रामीणों ने सुबह से ही वोट बहिष्कार शुरू कर दिया। प्रशासनिक अधिकारियों के आश्वासन के बाद निर्धारित समय से करीब 5 घंटे विलम्ब मतदान शुरू हुआ। ज्ञात हो कि घाघरा नदी के सरयू नदी की तलहटी व बाराबंकी बहराइच की सीमा से सटे विकास खंड सूरतगंज के हेतमापुर क्षेत्र के ग्राम खुज्जी में बने पोलिंग बूथ पर करीब 11 बजे तक सन्नाटा पसरा रहा। केंद्र पर मौजूद पीठासीन अधिकारियों ने जब इसकी जानकारी की तब पता चला कि गाँव मे मार्ग न बनने के कारण ग्रामीण नाराज है इसलिए मतदान बहिष्कार कर रहे हैं। इसकी जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे उच्च अधिकारियों ने ग्रामीणों को किसी तरह समझा बुझाया तब जाकर निर्धारित समय 7 बजे के बजाए दोपहर 12 बजे से मतदान शुरू हो पाया। लेकिन मतदान की गति काफी धीमी रही। दोपहर 1 बजे तक मात्र 15 मत ही पड़ पाए। ग्रामीणों का कहना है कि चुनाव के समय जनप्रतिनिधि आते हैं और लुभावने वादे करके चले जाते हैं। अरसों से हम लोग बाढ़ की विभीषिका से जूझ रहे हैं। आवागमन के लिए नाव का सहारा लेना पड़ता है। जनप्रतिनिधियों से लेकर जिम्मेदार अधिकारियों से मार्ग बनवाने की मांग की गई लेकिन आज तक आश्वासन ही मिला है। यदि इस गाँव को बाराबंकी या फिर बहराइच जिले में सम्मिलित कर दिया जाए तो हम लोगो की मुश्किलें कम हो जाए लेकिन कोई ध्यान नही दे रहा है। इसलिए हम लोग मतदान ही नही करेनेगे हलाकि प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा तमाम समझाने बुझाने पर मतदान शुरू हो गया। लेकिन अभी भी कुछ लोगों में साफ नाराजगी दिखाई पड़ रही है। हालांकि एसडीएम पवन कुमार का कहना है कि कोई भी पार्टी का जनप्रतिनिधि वोट मांगने नही गया था।इसलिए ग्रामीणों ने नाराजगी जाहिर की है। दोपहर से मतदान शुरू हुआ है।

अन्य खबरे

गोल्ड एंड सिल्वर

Our Visitors

17027
Total Visitors
error: Content is protected !!