Wednesday, May 29, 2024
HomeLatest Newsजब कलगुग में सत्ता आतंंकियो के पास चली गई तब योगी आदित्यनाथ...

जब कलगुग में सत्ता आतंंकियो के पास चली गई तब योगी आदित्यनाथ उतरे और बागडोर संभाली भगवा हमेसा से राष्ट्र हित में ही काम किया:कथा वाचक अतुल तिवारी

 

महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर दिखाई गई शिव पार्वती की सुंदर झांकी

सोमवार को विशाल भंडारे के साथ कथा का होगा समापन

            एडिटर कृष्ण कुमार शुक्ल नारद संवाद

रामनगर बाराबंकी।कस्बा गणेशपुर में साप्ताहिक श्रीमद भागवत कथा का आयोजन रामलीला मैदान के प्रांगड़ में रामचंद्र गुप्ता,रमेश गुप्ता के द्वारा किया गया है। विद्वान कथा व्यास पंडित अतुल तिवारी नैमीशारण्य सीतापुर के द्वारा भव्य सुंदर कथा कही जा रही है। श्रीमद् भागवत कथा के छठे दिन कथा व्यास पंडित अतुल तिवारी ने मनमोहक कथा सुना कर भक्तों का मन मोह लिया। कथा वाचक ने श्री कृष्ण की मनमोहक झांकी दिखाकर कंस के वध की कथा का वर्णन किया। जिसको सुनकर भक्त भावविभोर होकर भक्ति में डूब गए। कथा सुन रहे भक्तों ने खूब तालियां बजाई जिससे तालियों की गड़गड़ाहट से पूरा रामलीला मैदान गूंज उठा।श्री तिवारी ने उसके उपरांत महाशिवरात्रि के पावन अवसर पर भूत भावन भगवान भोलेनाथ के पवित्र पर्व के अवसर पर भगवान शंकर पार्वती की भव्य झांकी दिखाकर शिव पार्वती की कथा का वर्णन किया। भक्तों ने कथा का रसपान कर पुण्य लाभ अर्जित किया।20 फरवरी को विशाल भंडारे के साथ श्री मद भागवत कथा का समापन किया जायेगा।

 

कंस के वध से जरासंध बहुत क्रोधित हुआ क्योंकि कंस को उसकी दो बेटियां ब्याही थी

 

रविवार को श्रीमद् भागवत कथा के सातवें दिन कथा में जरासंध की कथा सुनाई गई जिसमें कंस की दो पत्नियां हैं जो जरासंध की बेटियां हैं, अस्ति और प्राप्ति कंस पाप है पापी व्यक्ति की दो ही सोच होती हैं अस्ति माने है प्राप्ति माने और मिल जाए दोनों बेटियों को विधवा के रूप में देख जरासंध आग बबूला हो गया और समस्त मथुरा को समसान बनाने का आदेश दिया परंतु कुछ नहीं कर पाया भगवान ने बचाया ब्यास जी ने कलयवन के भारत आक्रमण को लेकर बताया सबसे पहले यवन भगवान कृष्ण के समय आए थे तब नारद जी ने सबको ठिकाने लगाने के लिए भगवान कृष्ण के पास भेज दिया और ठिकाने लगा दिया जब जब देश में आतंक छाया तब तब कोई संत ने ही देश को बचाया जब वृत्तासुर का आतंक छाया तब दाधीच ने हड्डियां दान कर दी और जब रावण ने तबाही मचाई तब विश्वामित्र ने राम जी को धनुष विद्या सिखाई तैयार किया और जब कलयवन्न आया तब नारद जी ने आतंक का अंत करवाया और जब कलगुग में सत्ता अतंंकियो के पास चली गई तब योगी आदित्यनाथ उतरे और बागडोर संभाली भगवा हमेसा से राष्ट्र हित में ही काम किया।इस अवसर पर कथा आयोजक रामचंद्र गुप्ता रमेश गुप्ता प्रहलाद गुप्ता धर्मेंद्र गुप्ता कमल गुप्ता बबलू गुप्ता हर्ष गुप्ता शिवम गुप्ता सहित पूरा गुप्ता परिवार एवं गणेशपुर के तमाम गणमान्य लोग श्रीमद् भागवत कथा में शामिल होकर पुण्य लाभ अर्जित किया।

अन्य खबरे

यह भी पढ़े