Saturday, April 20, 2024
HomeLatest Newsगणेशपुर में कथा व्यास पंडित अतुल तिवारी ने चौथे दिन श्री कृष्ण...

गणेशपुर में कथा व्यास पंडित अतुल तिवारी ने चौथे दिन श्री कृष्ण जन्म लीला की सुंदर कथा कही

श्री कृष्ण की जन्म की कथा के चौथे दिन भक्त कथा का रसपान करते हुवे

    वाइस एडिटर संपादक कृष्ण कुमार शुक्ल

रामनगर बाराबंकी। गुरुवार को श्रीमद् भागवत कथा के चौथे दिन श्री कृष्ण जन्म की कथा व्यास पंडित अतुल कुमार तिवारी ने गणेशपुर कस्बा के रामलीला समाज शिक्षा केंद्र में कही।गुप्ता परिवार के द्वारा समाज शिक्षा केंद्र गणेशपुर के रामलीला मैदान के टीन शेड के नीचे भव्य दरबार को सजाकर लोगो के बैठने के लिए कुर्सी इत्यादि की व्यवस्था की गई।कथा वाचक अतुल तिवारी ने कहा भगवान के रूप लेने के तीन कारण है सतयुग कलयुग त्रेता युग हर युग में अवतार लेकर प्रकट होते है।आज के समाज में कालिया नाग की तरह ही कलयुग में भी विषैले कालिया नाग की तरह लोग होते है उनको हटाने के लिए भगवान हर युग में अवतार लेते है।भगवान स्वयं प्रकट होते है वह किसी जाति के रूप में नही आते धरती पर।जब जब धर्म की हानी होती है तब तब प्रभु को पृथ्वी पर आना होता है।अगर हम अपनी मां बहनों पर नजर नहीं रखेंगे तो कोई भी ताड़ कर ले जायेगा।सकल ताड़ना के अधिकारी का दोहा तुलसीदास जी ने गलत नही कहा है।कृष्ण जी जब प्रकट हुवे तब उनकी चार भुजाएं थी।यह देखर उनकी देवकी मां आश्चर्यचकित हो गई।हमारे जीवन में कोई प्रभु आता है तो हम बंधन मुक्त हो जाते है कथा व्यास अतुल तिवारी।संग्राम जिंदगी है इससे लड़ना पड़ेगा जो नही लड़ेगा वह पीछे हटेगा।जब वासुदेव जी बाल गोपाल के रूप में भगवान श्री कृष्ण जी को टोकरी में लेकर मथुरा चले तो तेज धारा में प्रवाहित होकर यमुना जी भगवान के दर्शन करने के लिए उथल पुथल कर बढ़ने लगी तो श्रीकृष्ण जी ने अपना पैर बड़ा कर उनको स्पर्श किया तब जाकर यमुना माता दर्शन पाकर शांत हुई।क्रूर कंश ने अपना ही वाहन भेजकर मथुरा अपनी मौत बुलाई।श्री कृष्ण की जन्म कथा सुनाकर कथा व्यास पंडित अतुल तिवारी ने भगवान के रूप में नन्हे बालक को टोकरी बैठाकर सभी भक्तो को रमेश गुप्ता ने नाचकर दर्शन कराए उसके पश्चात प्रसाद सभी को वितरित करवाकर गुरुवार के चौथे दिन की कथा का समापन किया।

इस अवसर पर गुप्ता परिवार के प्रमुख मुखिया रामचंद्र गुप्ता मुनीम,रमेश गुप्ता,राजू गुप्ता,प्रहलाद गुप्ता,कमल गुप्ता,बब्लू गुप्ता,हर्ष गुप्ता,पूर्व प्रधान दीपू अवस्थी,घनश्याम गुप्ता, पूर्व प्रधान शिवराम गुप्ता पवन जायसवाल,अमर जैन,अमित नाग,शुभम गुप्ता,सहित तमाम पुरुष महिला बच्चे श्रीमद भागवत कथा का रसपान कर पुण्य लाभ अर्जित किया।

अन्य खबरे

यह भी पढ़े