Naradsamvad

श्रावण माह के पंचम सोमवार को हर हर महादेव के जय घोष से गूंज उठा लोधेश्वर धाम

 

 

 

 

जिला पंचायत की लापरवाही से अभरण कुंड की बल्लियां पानी में तैरने लगी

नाथ कुटी के पास अवैध स्टैंड का दबंग कर रहे संचालन

लोधेश्वर महादेवा में दो महिलाओं की चेन चोरी

बैरिकेडिंग में पंक्ति में लगकर घंटों इंतजार कर श्रद्धालुओं ने महादेव का किया जलाभिषेक

    रिपोर्ट वॉइस एडिटर कृष्ण कुमार शुक्ल नारद संवाद

महादेवा बाराबंकी।श्रावण माह के पंचम सोमवार को बारिश की मार व रास्ते की दुश्वारियां भी आस्था के जनसैलाब को रोक ना पाई श्रद्धालुओं ने हर हर महादेव ओम नमः शिवाय जय भोलेनाथ शिव शंभू बम बम भोले नाथ के जयकारे लगाकर भूत भावन भोलेनाथ लोधेश्वर महादेव शिवलिंग का जलाभिषेक किया। करीब दो लाख श्रद्धालुओं ने महादेवा तीर्थ स्थल पहुंचकर लोधेश्वर भगवान के पूजन अर्चन कर मनवांछित फल प्राप्त किया।
बता दे पौराणिक तीर्थ स्थल लोधेश्वर महादेवा में चल रहे पुरुषोत्तम अधिक श्रावण मास मेले में रविवार की शाम से ही श्रद्धालुओं का आना शुरू हो गया शाम से हो रही बरसात श्रद्धालुओं के कदम को रोक ना पाए बरसते पानी में श्रद्धालु अपनी मंजिल की ओर हर हर बम बम करते हुए डीजे भांगड़ा की धुन पर भक्ति गीत पर झूमते हुए प्रस्थान कर रहे थे चाहे वह गोंडा से बाराबंकी मार्ग हो या फतेहपुर से महादेवा मार्ग हो बाराबंकी से लोधेश्वर महादेवा मार्ग हर तरफ से श्रद्धालुओं का आना अनवरत जारी था। गोंडा बहराइच मार्ग पर बच्चे महिलाएं व पुरुष सभी सरयू नदी से गंगा जल भर के नंगे पैर लोधेश्वर महादेवा की तरफ बरसते पानी में प्रस्थान कर रहे थे रास्ते में श्रद्धालुओं के लिए जगह जगह भंडारे का आयोजन समाजसेवी द्वारा किया गया था। जिसमें पैदल आने वाले श्रद्धालु रुक कर प्रसाद ग्रहण कर रहे थे। चौका घाट गणेशपुर से गोबराहा तक आने वाले श्रद्धालु अपने मोबाइल की टॉर्च के उजाले में यात्रा कर रहे थे, महिलाओं और बच्चों को रास्ते के रोड़े घायल कर रहे थे उस आस्था के आगे यह दुश्वारियां भी उनको कम लग रही थी, बरसात के मौसम में बिजली का आना-जाना जारी रहा, पुलिस अधीक्षक बाराबंकी दिनेश कुमार सिंह की भी अपील का असर नहीं दिख रहा था पुलिस अधीक्षक द्वारा कहा गया था श्रद्धालुओं के साथ मेले में शालीनता से पेश आएं सेवा भाव से ड्यूटी की जाए परिक्रमार्थीयों की परेशानियां प्रशासनिक अधिकारीयों के दिल को पसीज नहीं पाई जो परिक्रमा कर के 15 से 20 किलोमीटर दूर से परिक्रमा कर कर लोधेश्वर धाम पहुंचे थे उनको मंदिर के मेन गेट से जाने नहीं दिया गया जिससे परिक्रमा करने वाले प्रशासन से नाराज दिख रहे थे, परिक्रमा करने वालों से सुरक्षाकर्मियों द्वारा उच्चधिकारियों के आदेश का हवाला देते हुए धक्का-मुक्की कर कर हटाया गया। जबकि संवाददाता के द्वारा महादेवा चौकी प्रभारी धर्मेद्र शुक्ला से बात करने पर कहा गया कि परिक्रमार्थियों को रोका नहीं जाएगा, परंतु उनकी भी बात का कोई असर नहीं हुआ, रात भर हुई बारिश में श्रद्धालुओं को बरसात से बचने के लिए एकमात्र रैन बसेरा में श्रद्धालु रुके थे जिला पंचायत द्वारा जो टेंट लगाया गया था उसमें जाने का रास्ता सही नही था और बैठने लायक भी जगह नहीं थी जिससे श्रद्धालु भीगते हुए जलाभिषेक कर अपने गंतव्य को प्रस्थान कर रहे थे, पूरे मेला क्षेत्र में जगह-जगह अखंड रामायण का पाठ ओम नमः शिवाय व भंडारे चल रहे थे जिसमें श्रद्धालु पहुंचकर प्रसाद ग्रहण कर रहे थे बारिश की वजह से जितने श्रद्धालुओं की आने की संभावना थी उससे कुछ कम रही फिर भी लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं ने लोधेश्वर महादेव का जलाभिषेक कर मनोवांछित फल की कामना का आशीर्वाद लिया, मेले की सुरक्षा व्यवस्था में उप जिलाधिकारी रामनगर अनुराग सिंह के साथ, अपर पुलिस अधीक्षक आशुतोष मिश्रा,जिला पंचायत कार्याधिकारी पल्लवी सिंह, पुलिस क्षेत्राधिकारी रामनगर हर्षित चौहान कोतवाल सुरेश पांडे , चौकी प्रभारी प्रभारी धर्मेंद्र शुक्ला के द्वारा मेले में नजर रखी जा रही थी।यह भी पढ़े:

जिला पंचायत के ठेकेदार महादेवा मेला में कर रहे मनमानी:

जिलाधिकारी अविनाश कुमार के निर्देशों के बाद भी जिला पंचायत के ठेकेदार पूरे मेले में मनमानी करते रहे। इनकी आधी अधूरी व्यवस्थाओं के बीच मेला समाप्ति की ओर पहुंच रहा है। पुरुषोत्तम मास के तीसरे सोमवार पर अभरण सरोवर तालाब पर महिलाओं के कपड़े बदलने के लिए की गई व्यवस्था तथा मेला बाग में लगाए गए पांडाल पर की त्रिपाल नदारद थी। अभरण सरोवर तालाब पर श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए लागई गयी बैरिकेडिंग की बल्लियां पानी में बह रही थी जाल भी फटा था। सोचनीय बात यह है कि जिला पंचायत विभाग के संबंधित अधिकारी लगातार पूरे मेला का भ्रमण करते रहे और शिकायतें होती रही लेकिन समस्याओं का समाधान नहीं कर सके।

श्रावण माह के चौथे सोमवार को श्रद्धालु महिला की गायब चेन का नहीं हुआ खुलासा पांचवे सोमवार को दो और महिलाओं की शातिर चोरों ने उड़ा दी चेन:

महादेवा के श्रावण माह पुरुषोत्तम मास के तीसरे सोमवार को पाकेट मारो एवं चेन स्नेचरों की चांदी रही।चोर उच्चको ने भीड़ का फायदा उठाते हुए मंदिर से दो महिला श्रद्धालुओं के गले से चेन गायब कर दी।सोमवार को लोधेश्वर महादेवा जलाभिषेक करने आयी मीनू पत्नी मनोज निवासी कस्बा रामनगर की पूजन दर्शन के दौरान अज्ञात चेन स्नेचरो ने उनके गले से चेन खींच ली। जिसकी पीड़िता को भनक तक नहीं लगी।चेन गायब होने की जानकारी मंजू को होते ही खोजबीन शुरू कर दी लेकिन कुछ भी पता नहीं चल सका। पीड़िता ने इसकी तहरीर महादेवा चौकी पर दी है।वही दूसरी घटना में श्यामलाल निवासी रेलीबाजार मजरे लोहटी जई की पत्नी के गले से चोरों ने चेन खीच चोरी कर लिया।पीड़िता को घटना की जानकारी होने पर चेन की काफी खोजबीन के बाद वह निराश होकर घर वापस चली आई।
ज्ञात हो की श्रद्धालुओं की देखरेख के लिए मेला क्षेत्र में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है और चोर उचक्कों पर नजर रखने के लिए सीसीटीवी व ड्रोन कैमरा रात दिन चलाए जा रहे हैं। लेकिन चोर उचक्को पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। भीड़ में मौका पाते हैं चोर घटना को अंजाम देकर फरार हो जाते हैं। श्रावण मास के चौथे सोमवार को जलाभिषेक करने आई एक महिला की चेन मंदिर के गर्भ गृह से चोरी हो गई थी जिस पर जांच पर जांच की गई लेकिन उसका कुछ भी पता नहीं चल सका।
महादेवा मेला में अवैध स्टैंड का कारोबार चरम पर:
प्रसिद्ध लोधेश्वर महादेवा धाम में स्टैंड संचालक ठेका लेकर वसूली कर रहे हैं। तो कुछ अराजकता तत्व बिना आदेश के अवैध स्टैंड बनाकर वसूली कर मालामाल हो रहे हैं। ज्ञात हो कि महादेवा मेले में अव्यवस्था न हो जिसके लिए प्रतिवर्ष वाहन पार्क के लिए स्थान चिन्हित किए जाते हैं और मानक राशि जमा करने वाले व्यक्ति के नाम तहसील प्रशासन के द्वारा ठेका दिया जाता है। स्टैंड संचालित करने वाले ठेकेदारों के द्वारा उचित राशि लेकर वाहन पार्क में खड़े करवा कर उनकी देख रखी जाती है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार श्रावण मास मेले में रविवार की रात होते ही अभरण सरोवर तालाब के पास स्थित नाथ कुटी के पीछे कुछ अराजक तत्वों के द्वारा अवैध स्टैंड संचालित किया रहा है और श्रद्धालुओं से मनमानी वसूली कर जेब भारी जा रही हैं। इसकी शिकायत भी कई बार की जा चुकी है लेकिन संबंधित लोग गौर फरमाना मुनासिब नहीं समझ रहे हैं।

खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने मेला में खानपान की दुकानों का किया निरीक्षण:
महादेवा मेले में खानपान की सभी दुकानों का खाद्य सुरक्षा अधिकारी डॉ राकेश कुमार सिंह व ओंकारनाथ यादव द्वारा सोमवार को सभी दुकानों का निरीक्षण कर ताजा नाश्ता व भोजन उपलब्ध कराने रेट लिस्ट लगाने व कूड़ेदान रखने को सभी दुकानदारों को सख्ती से कहा गया कि आप लोग अपनी दुकान के आगे डस्टबिन लगा ले जिससे मेले में गंदगी ना फैले पाए।

अन्य खबरे

गोल्ड एंड सिल्वर

Our Visitors

201132
Total Visitors
error: Content is protected !!