Monday, February 26, 2024
HomeLatest Newsएक दिवसीय दौरे पर बाराबंकी पहुंचे डिप्टी ब्रजेश पाठक

एक दिवसीय दौरे पर बाराबंकी पहुंचे डिप्टी ब्रजेश पाठक

 

           

              ब्यूरो रिपोर्ट:ताहिर रिजवी

बाराबंकी, एक दिवसीय दौरे पर बाराबंकी आए उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने विकास खण्ड देवा की ग्राम पंचायत पवैयाबाद में चौपाल लगाई व अनुसूचित जाति बस्ती का भ्रमण किया। उपमुख्यमंत्री ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र देवा, कस्तूरबा गांधी विद्यालय देवा एवं निर्माणाधीन भवन एवं पशु आश्रय स्थल व विकास खण्ड बंकी अन्तर्गत निबलेट फार्म का निरीक्षण किया। जन चौपाल के दौरान उपमुख्यमंत्री ने राज्य सरकार तथा केन्द्र सरकार द्वारा चलायी जा रही समस्त जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पात्र लाभार्थियों तक पहुंच रहा है, इस बारे में ग्रामीण वासियों से जानकारी लेते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। चौपाल के दौरान दिव्यांगजन पेंशन, निराश्रित पेंशन, उज्ज्वला योजना, शौचालय, मनरेगा जॉब कार्ड, प्रधानमंत्री आवास, विधवा पेंशन, किसान सम्मान निधि, राशन कार्ड, आवास, आयुष्मान कार्ड सहित विभिन्न प्रकार की योजनाओं से सम्बन्धित प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए। जिस पर उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश देते हुए कहा कि तत्काल पात्र लाभार्थियों को योजनाओं का लाभ दिया जाये। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र देवा में कोल्ड चेन, जेई/एईएस वार्ड/डेंगू वार्ड, जेएसवाई वार्ड, इमरजेंसी वार्ड, पंजीकरण कक्ष सहित अन्य वार्डो का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने साफ सफाई बेहतर करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर आने वाले मरीजों को बेहतर सुविधाएं दी जाए,कस्तूरबा गांधी विद्यालय देवा के निरीक्षण के दौरान बच्चों की शिक्षा की व्यवस्था सहित विद्यालय में साफ-सफाई व अन्य सुविधाओं की जानकारी ली। पशु आश्रय स्थल निबलेट फार्म का निरीक्षण किया व पशुओं को चना व गुड़ खिलाया।इस अवसर पर राज्य मंत्री खाद्य एवं रसद सतीश चन्द्र शर्मा, विधायक कुर्सी साकेन्द्र प्रताप वर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष शशांक कुशमेश, जिला पंचायत अध्यक्ष राजरानी रावत,जिलाधिकारी अविनाश कुमार, पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी श्रीमती एकता सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी, विधान परिषद सदस्य अंगद सिंह, जिला विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।

अन्य खबरे

यह भी पढ़े