ग्राम पंचायत सफदरगंज में नहर का पानी किसानों व ग्रामीणों के लिए बना अभिशाप

0
176

मसौली/बाराबंकी

विभाग की लापरवाही के चलते जलालपुर माइनर नहर की टेल तक सफ़ाई न होने से ग्राम पंचायत सफदरगंज के लिए नहर का पानी किसानों एव ग्रामीणों के लिए अभिशाप बना हुआ है। ग्राम प्रधान एव ग्रामीणों ने जब शिकायत की तो नहर विभाग के मेट न आपा खोते हुए ग्राम प्रधान से अभद्रता कर बैठा।शारदा सहायक शाखा बाराबंकी से निकली जलालपुर माइनर नहर की टेल तक सफाई न होने के कारण जब किसानों को पानी की जरूरत होती हैं तब पानी नही मिलता है और जब पानी की जरूरत नही होती है तो किसानों की फसलें नहर के पानी से डूब जाती है। नतीजा यह है कि जलालपुर माइनर ग्राम पंचायत सफदरगंज के किसानों के लिए अभिशाप साबित हो रही है। दो दिन पूर्व अचानक नहर में पानी आ जाने से किशोर यादव, सतनाम, रामनरेश, शिवनरायन, जयगणेश, रामदेव सहित अन्य किसानों की फसलें पानी से जलमग्न हो गयी। प्रधान प्रतिनिधि ने नहर के पानी से बर्बाद हुई फसलो की सूचना जब सिंचाई विभाग के जेई को दी तो नहर में तो पानी बन्द करा दिया गया परन्तु नहर विभाग के मेट मो0 नसीम ने अपना आपा खोते हुए ग्राम प्रधान प्रतिनिधि अजय कुमार वर्मा से अभद्रता करते हुए गाली गलौज करने लगा। जिससे विभाग के मेट के प्रति लोगो मे खासी नाराजगी है। इस सम्बंध में जब सिंचाई विभाग के अवर अभियंता सुशील कुमार से बात हुई तो उन्होंने बताया कि टेल तक नहर की सफाई कराई गई है परंतु टेल गुल को किसानों ने अपने अपने खेतों में मिला लिया है। बहरहाल किसानों के खेतों में पानी न जाय जिसके लिए आपसी सहमति से कोई रास्ता निकाला जाएगा।

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here