रामनगर पुलिस ने लापता लवकुश कांड का किया पर्दाफाश

0
1005

रामनगर/बाराबंकी

बाराबंकी पुलिस अधीक्षक के आदेशानसार अपर पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में क्षेत्राधिकारी रामनगर के पर्यवेक्षण में आज रविवार को प्रभारी निरीक्षक के नेतृत्व में थाना रामनगर की पुलिस ने ग्राम भैरमपुर के गायब लव कुश जायसवाल के घटना का पर्दाफाश कर हत्या करने वाली महिला और देवर को गिरफ्तार कर जेल रवाना कर दिया।यह हत्या अवैध संबंधों के चलते की गई।थाने पर आयोजित पत्रकार वार्ता में घटना का खुलासा करते हुये पुलिस क्षेत्राधिकारी दिनेश कुमार दुबे ने बताया कि मृतक लवकुश जायसवाल ग्राम अमोली कला में स्थित दारू ठेके के बगल में कैंटीन चलाते थे।वह 24 नवंबर को देर रात जब घर नहीं पहुंचे तो उसकी पत्नी आराधना जायसवाल ने थाने पर 25 नवंबर को गुमशुदगी का मामला पंजीकृत कराया था।पुनः आराधना ने अमोली कला निवासी एक अज्ञात महिला और उसके देवर पर अपने पति के अपहरण का मुकदमा 8 दिसम्बर को दर्ज कराया था।जिसकी विवेचना पुलिस कर रही थी।थाने के विवेचक एस एस आई संजय सिंह के सामने सर्विलान्स के जरिये यह तथ्य प्रकाश में आया कि अमोली कला निवासिनी प्रतिभा सिंह पत्नी रितेश सिंह का गायब हुये लवकुश जायसवाल के साथ अवैद्म समबंध थे।यह बात जब प्रतिभा के देवर सर्वेश सिंह पुत्र सूर्यभान सिंह को पता चली तो उसने लवकुश को रास्ते से हटाने का मन बना लिया।24 नवंबर की रात घर पर उसने देखा कि दोनों लोग सो रहे थे जिसे देखकर सर्वेश सिह ने लवकुश को मार डालने के लिए सिलबट्टा से उनके सिर पर वार कर दिया।इसके बाद भाभी और देवर से तकिया से मुह ढककर मिल कर उनकी हत्या कर दी।सर्वेश सिंह ने पुलिस को बताया कि लवकुश के 12 टुकड़े करके बोरियो में भरकर सरयू नदी में फेंक दिया गया है।मुखबिर की सूचना पर थाना प्रभारी निरीक्षक विनोद बाबू मिश्रा वरिष्ठ उपनिरीक्षक संजय सिंह धर्मेंद्र मिश्रा हेड कांस्टेबल प्रकाश यादव बृजेश कुमार अनुभव कुमार महिला कांस्टेबल प्रीति यादव रुचि यादव ने अभियुक्तों को लखनऊ जाते समय चौकाघाट मोड से पकड़ कर उनकी निशानदेही पर घटनास्थल अमोली कला ले जाकर हत्या की प्रामाणिकता के आधार पर दोनों लोगो को गिरफ्तार कर लिया।गिरफ्तार अभियुक्तों ने घटना को स्वीकार करते हुये घटना से संबंधित साक्ष्य पुलिस दल को उपलब्ध कराये।पुलिस ने हत्या की घटना का सफल अनावरण करते हुये दोनो अभियुक्तो को जेल भेज दिया।

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल/विवेक शुक्ल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here