कवि प्रदीप वैरागी को मिला राष्ट्र गौरव सम्मान,साहित्यकारों में हर्ष की लहर ,अपनी रचनाओं और लेखनी के माध्यम से बढ़ाया जनपद का मान

0
354


पुवायाँ। क्षेत्र के गांँव धारा के साधारण कृषक परिवार में केतकी और लालजीत के घर जन्मे राष्ट्रवादी युवा कवि और साहित्यकार प्रदीप वैरागी को क्रांतिवीर काव्य मंच दिल्ली की ओर से उनकी रचनाधर्मिता के लिए राष्ट्र गौरव सम्मान दिया गया है।
बिदित हो कि कोरोना संकट की घड़ी में जनजागरण अभियान चलाकर ऐतिहसिक कीर्तिमान स्थापित करने वाले जनपद के चर्चित राष्ट्रवादी युवा कवि और साहित्यकार प्रदीप वैरागी को उनकी साहित्यिक और सामाजिक सेवाओं के लिए देश नहीं बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी अनेक बार सम्मानित किया जा चुका है। यह बड़े ही गौरव की बात है कि रेल प्रशासन, भारत सरकार द्वारा 2016 में उनकी पंक्तियों को काकोरी काण्ड के महानायकों की प्रतिमाओं के साथ शाहजहाँपुर रेलवे स्टेशन के मुख्य द्वार पर लगाया गया था।
जिससे प्रतिदिन देश -विदेश से आने वाले हजारों यात्री उनकी पंक्तियों को पढ़ते हैं।
क्रांतिधरा धरा शाहजहाँपुर में जन्मे युवा कवि प्रदीप वैरागी बहुत ही कम समय में जनपद ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण साहित्य जगत में अपनी अलग पहचान बना चुके हैं।
क्रांतिवीर काव्य मंच के संस्थापक ओज़कवि अतर सिंह प्रेमी ने बताया कि राष्ट्रवाद की अलख जगाने वाले माँ भारती के लाड़ले राष्ट्रवादी युवा कवि और साहित्यकार प्रदीप वैरागी को राष्ट्र गौरव सम्मान से सम्मानित करते हुए हम गौरवान्वित हैं।
प्रदीप वैरागी ने कहा कि यह केवल एक व्यक्ति विशेष का सम्मान नहीं बल्कि सम्पूर्ण साहित्य जगत का सम्मान है।
यह सम्मान हम अपने गुरुजनों और शुभचिन्तक साहित्यकारों को समर्पित करते हैं।
राष्ट्र गौरव सम्मान से सम्मानित होने पर ओज़कवि रामबाबू शुक्ला, आर एल श्रीवास, पुनीत सत्यम , बीपी मिश्र बेधड़क, आशीष शुक्ला, तेजपाल जोशी, भानु त्रिवेदी, ऋषभ शुक्ला, हिमांशु शुक्ला, रवि सूर्या, महेश गुप्ता प्रदीप शर्मा, सत्येंद्र शुक्ला, प्रधानाचार्य ऊधम सिंह, अमित दीक्षित, रोहिताश गुप्ता, उपेंद्र पाल सिंह, अमित सिंह ,गोपाल, गोविंद त्रिवेदी, राजीव शर्मा डाॅ. अजय वर्मा, पुष्पेंद्र शर्मा, संजय अकेला,राकेश सैनी आलोक पांडे आदि ने हर्ष व्यक्त किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here