स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की कृपा से गैर सरकारी संगठन द्वारा कैंप लगाकर वसूली कर किया जा रहा है टीकाकरण

0
242

रामनगर/बाराबंकी

रामनगर तहसील क्षेत्र के लगभग सभी गाँवो में कैंप लगाकर वैश्विक महामारी की दहशत के दौर मे स्वास्थ्य विभाग की ओर से चलाये जा रहे कोरोना टीकाकरण अभियान के साथ जिम्मेदार अधिकारियो की कृपा से एक गैर सरकारी संगठन भी गांव गांव हेपेटाईटेस बी और टाईफाईड के टीके का टीकारण करने के लिये 10 रुपये रजिस्टेशन फीश और 60 रुपये प्रति टीके का वसूल कर धीरे धीरे दूसरे गांवो की ओर बढ़ रहे है।लेकिन न्यू लोक प्रिय जन कल्याण सेवा संस्थान के कर्मचारियो की ओर से यह देखे बिना कि किस व्यक्ति को इसकी आवश्यकता है अथवा नही आशा बहू के माध्यम से बच्चे बूढे और जवान सभी को बुलवाकर यह टीका लगाया जा रहा है।जिसके कारण क्षेत्रीय जागरुक जन सवाल उठा रहे है।यह प्रकरण विकास खंड सूरतगंज के अन्तर्गत ग्राम पंचायत जुरौन्डा मे उस समय देखने को मिला जब न्यू लोक प्रिय जन कल्याण सेवा संस्थान के दो नव युवक एक दिन पूर्व से दस दस रुपये वसूल किये गये थे जो उनके कार्ड पर लिखे भी हुये थे।उन लोगो को टीका दो नवयुवक लगा रहे थे।आश्चर्य तो इस बात का हुआ कि कार्ड पर 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चो को नही लगेगा लेकिन संवाददाता को एक बच्चा जिसके टीका लगाया जा रहा था वह कम उम्र का दिख रहा था।जो कार्ड रजिस्टेशन के बाद 10 रुपये लेकर दिया जा रहा है।उस पर संक्रमित होने से लेकर टीकाकरण स्थल पर कोई विशेष परिस्थिती मे सुविधा उपलब्ध कराया जाना भी लिखा था जबकि ऐसा कुछ मौके पर था नही दो नवयुवक जिनसे ग्रामीणो को यह भी एहसास नही हो रहा था कि यह लोग कोई पारगंत स्वास्थ्य कर्मी है मगर कोरोना काल मे चल रहे दहशत की वजह से गरीब लोग पहले टीका लगवाने आ गये जो सबसे आगे रहे।जागरुक जनो मे शुरु हुई जनचर्चा और उठ रहे सवालो के मद्देनजर सी एच सी सूरतगंज के प्रभारी चिकित्सक राज श्री त्रिपाठी से जानकारी चाही गयी तो उनका कहना था कि एक एन्जिओ है जो मुख्य चिकित्सा अधिकारी बाराबंकी से परमीशन ली है।लोग अपनी स्वेच्छा से लगवाये।यह अभियान हर गांव के लिये है।

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल/विवेक शुक्ल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here