बाराबंकी:अल्लाह से बात होने का हवाला देकर बुजुर्ग ने खुदवाई अपनी कब्र पहन लिया कफन।

0
346

मौके पर पहुंचे एसडीएम कोतवाल ने सिरफिरे बुजुर्गों को कब्रिस्तान से किया घर वापस

बाराबंकी
प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते शुक्रवार थाना कोतवाली क्षेत्र सफदरगंज के नूरपुर गांव में एक मामला फिल्मी अंदाज में देखा गया।जहां एक बुजुर्ग अल्लाह से अपनी बात होने की बात कर रहा था और पास के गांव से मजदूर बुलवाकर अपनी ही कब्र खुदवाकर उस बुजुर्ग ने स्वयं के हाथों कफ़न पहन कर कब्रिस्तान की ओर चल पड़ा।मामले की जानकारी ग्रामीणों ने थाना कोतवाली सफदरगंज प्रभारी सुधीर कुमार सिंह को दी। आनन फानन में पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे कोतवाल ने बुजुर्ग को कब्र में बैठने से रोका और बुजुर्ग से बात की तो उन्होंने कहा दो वर्ष पूर्व अल्लाह ताला ने मुझे बुलाया था जिस पर अल्लाह ताला से हमने टाइम ले लिया था हमने पैगंबर मोहम्मद साहब के योमें पैदाइश (बारावफात) के बाद आने वाले शुक्रवार को दोपहर एक बजकर पांच मिनट अल्लाह के पास जाने का टाइम मुकर्रर कर दिया था।जिस पर कोतवाली प्रभारी ने बुजुर्ग को समझाते हुए कहा अभी आपके खाने-पीने और ईश्वर की इबादत करने का समय है आप यही कीजिए।और उन्होंने समझा-बुझाकर बुजुर्ग को घर वापस करवा दिया।मौजूद लोगों से अपने-अपने घर जाने की अपील भी की।वहीं गांव से बाहर रह रहे बुजुर्ग के पुत्र रहमत और अनवर से बात की गई तो उन्होंने बताया कि उनके पिता की मानसिक हालत ठीक नहीं है इसलिए उन्होंने अपनी कब्र खुदवाकर कफ़न पहन लिया था।जबकि बुजुर्ग द्वारा किया कृत्य क्षेत्र सहित पूरे जनपद में पूरे दिन चर्चा का विषय बना रहा जो भी सुनता हैरान रह जाता।

रिपोर्ट:-कृष्ण कुमार शुक्ल/बाराबंकी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here