रामनगर:नोडल अधिकारी एंव प्रमुख सचिव आवास नियोजन दीपक कुमार विकास खण्ड के एक ग्राम के प्राथमिक विद्मालय के साथ नगर पंचायत रामनगर में बिना निरीक्षण किये वापस लौटे।

0
186

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार/विवेक शुक्ल

रामनगर बाराबंकी भले ही पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नोडल अधिकारी एंव प्रमुख सचिव आवास नियोजन दीपक कुमार विकास खण्ड के एक गाव और प्राथमिक विद्मालय के साथ नगर पंचायत रामनगर मे विकास कार्यो का निरीक्षण कर जायजा लेना भी उनकी प्राथमिकताओ मे शामिल था।लेकिन वह बाढ पीडितो के बीच मे हेतमापुर जाकर राहत एंव बचाव कार्यो का जायजा लेकर जिले की तरफ निकल गये।क्षेत्र के एक गांव और प्राथमिक विद्मालय के चयन को लेकर हुये सोच विचार और नगर पंचायत के विकास कार्यो के बावत हलकान जिम्मेदार अधिकारियो ने उनके न आने से राहत की सास ली।मालुम हो कि प्रदेश के प्रमुख सचिव आवास एंव शहरी नियोजन जिले के नोडल अधिकारी दीपक कुमार का पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत हेतमापुर बांध पर बाढ राहत कार्य बडा गाव सी एच सी सहित विकास खंड रामनगर के एक गांव एक विद्मालय के साथ नगर पंचायत रामनगर के निरीक्षण का कार्य प्रस्तावित था।लेकिन वह बडा गांव सी एच सी और हेतमापुर क्षेत्र मे बाढ राहत कार्यो का जायजा लेकर स्थानीय डाक बंगले पर पहुच गये।विभागीय जानकारो के मुताविक वहा नगर पंचायत रामनगर के अभिलेख स्थानीय डाक बगले पर मगवाकर जाचे गये जिसमे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की महत्वाकांक्षी स्वच्छता अभियान के मद मे व्यय हुये धन का कोई संतोष जनक लेखा जोखा जनक न देख कर फटकार मिली।कडी कार्यवाही की चेतावनी भी दी गयी।यह बात और है कि नगर के निवासियो की मंशा के अनुरुप यहा कराये गये चहुमुखी विकास कार्यो की हकीकत का वह जायजा नही ले पाये।जिससे जागरुक निवासियो के मुख पर साफ साफ निराशा झलक रही थी।बताते चले एक गांव और एक विद्मालय के चयन को लेकर जिम्मेदार अधिकारी हलकान रहे।आखिरकार लैन गांव के एक मजरा मझोनी गांव के निरीक्षण पर सहमति बन गयी।यह बात अलग है कि उस गांव मे ब्लाक प्रमुख संजय तिवारी का निवास है।वहा बाल विकास पुष्टाहार विभाग की सुपरवाइजर ए डी ओ आई एस बी देव नायक सिंह टेक्निकल जे ई सरबजीत वर्मा सचिव अखिलेश दुबे खंड शिक्षा अधिकारी एडीओ पंचायत राम आसरे सहित सैकडो सफाई कर्मचारियों ने मझौनी जाकर आनन फानन मे तैयारी शुरु कर दी।कार्यवाहक प्रधानाचार्य शीतल खरे 2 सहायक अध्यापक आंगनबाड़ी कार्यकत्री आदि की मौजूदगी मे विद्मालय परिसर की टै्क्टर से जुताई शुरु हो गयी।वहा तैयारी चल ही रही थी कि नोडल अधिकारी दल बल के साथ आगे निकल गये।जिससे वहा जुटे अधिकारियो कर्मचारियो ने राहत की सास ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here