बाराबंकी:मंदिर परिसर में महंत के अंतिम संस्कार को लेकर हुआ विवाद

0
280

रिपोर्ट/जयशंकर पान्डेय

सिरौलीगौसपुर बाराबंकी।मंदिर परिसर में पूर्व महंत के अंतिम संस्कार को लेकर वर्तमान महंत एवं मृतक महंत के परिवार के मध्य विवाद हो गया । जिसके बाद मौके पर पहुंची बदोसरांय पुलिस ने किसी तरह मामले को सुलक्षाया । इसके बाद महंत के शव का अंतिम संस्कार किया जा सका ।कोतवाली बदोसराय के बरौलिया गांव राम जानकी मंदिर के महंत रहे सत्यनाम दास जिनकी उम्र करीब पचासी वर्ष थी । उनका निधन बुधवार की सुबह हो गया । मृतक महंत की इच्छा के अनुसार उनके शव का मंदिर परिसर में ही उनके गुरु की समाधि के समीप अंतिम संस्कार जाना था । दोपहर मे शव के अंतिम संस्कार की तैयारी चल रही थी । इसी बीच मंदिर के मौजूदा महंत रामअवध दास व उनके दो बेटों अमित एवं शिवा ने मृतक महंत के शव का मंदिर परिसर में अंतिम संस्कार किए जाने का विरोध शुरू कर दिया। जिससे दोनों परिवारों के बीच विवाद होने लगा । इस विवाद से गांव वालों के मध्य तनाव हो गया और मामला मारपीट तक पहुंच गया । ग्रमीणों ने इसकी सूचना पीआरवी को दी । मौके पर पहुंची पीआरवी द्वारा प्रयास के बाद भी मामला नहीं सुलझ सका ।

पुलिस ने विवाद सुलझाकर कराया अंतिम संस्कार

मामला बढता देख इसकी सूचना कोतवाली प्रभारी को दी गई। मौके पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक दयाशंकर सिंह ने किसी तरह दोनों महंत परिवारों को समझा बुझा कर मामला सुलझा दिया ।इसके बाद मंदिर परिसर में ही मृतक महंत के शव का अंतिम संस्कार किया गया। प्रभारी निरीक्षक दयाशंकर सिंह ने बताया की दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर शव का अंतिम संस्कार करा दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here