एस आई शिखा सिह और लेखपाल की मिली भगत से चल रहा अवैद्म खनन और अवैध निर्माण कार्य

0
373

लेखपाल ब्रजनाथ की मिली भगत से सरकारी और निजी जमीनो पर होने वाले अवैद्म रुप से निमार्ण कार्यो की लम्बी फेहरिस्त

नगर पंचायत रामनगर के पूर्व चेयरमैन रामशरण पाठक ने महाभ्रष्ट लेखपाल के खिलाफ खोला मोर्चा

 

एस आई शिखा सिह और लेखपाल की मिली भगत से चल रहा अवैद्म खनन और अवैध निर्माण कार्य

राघवेन्द्र मिश्रा/विवेक शुक्ला Naradsamvad.in

बाराबंकी जिले की रामनगर तहसील आये दिन भ्रस्ट अधिकारियों और कर्मचारियों की बजह से आये दिन सुर्खियों में बनी रहती है रामनगर आमजनो की ओर से आने वाली शिकायतो पर संज्ञान लेकर उनके निराकरण के लिये योगी सरकार बराबर दिशा निर्देश जारी कर कडक कार्यशैली अपनाये हुये है।लेकिन बाराबंकी जिले मे जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी आमजनो की शिकायतो के प्रति कैसा व्यवहार कर रहे है।यह बात तब किसी से छिपी नही है जब आये दिन मीडिया मे पीडितो की पीडा सुर्खियो के रुप मे बराबर स्थान बनाये रहती है।ताजा प्रकरण तहसील रामनगर से समबंधित एक हल्के के लेखपाल का है।पीडिता के फोन पर हल्का लेखपाल की ओर से दी जाने वाली ओछी गाली की आडियो की सुनने के बाद अधिक दिमाग लगाने की कोई जरुरत नही है।समाज के जागरुक जनो ने ऐसे दुष्ट और भ्रष्ट लेखपाल के विरुद्व जाच पडताल के बाद सख्त से सख्त कार्यवाही की आवश्यकता जताई है।जिससे भाजपा सरकार की मंशा जमीन पर भी दिखाई और सुनाई देने के साथ पीडितो की पीडा पर मरहम लगाया जा सके।पीडित ने अवैद्म रुप से स्वंय की जमीन पर करवाये जा रहे निर्माण कार्य को रोकवाये जाने के लिये उपजिलाधिकारी राजीव कुमार शुक्ल को पत्र सौप कर न्याय की गुहार लगाई है।मालूम हो कि तहसील रामनगर के अन्तर्गत ग्राम नहामऊ की निवासी जगवन्ता उर्फ मायावती पुत्री मैकूलाल पत्नी वैजनाथ ने एस डी एम राजीव कुमार शुक्ल को पत्र देकर अवैद्म रुप से कब्जा कर निर्माण करने का आरोप लगाते हुये उस रोक लगाये जाने की मांग की है।उन्होने पत्र मे कहा है कि प्रार्थिनी नहामऊ स्थित गाटा संख्या 8210- 164 है।जिसमे वह संक्रमणीय सह खातेदार है।प्रार्थिनी के हिस्से की जमीन पर ग्राम वासी दयाराम पुत्र रघुवीर जबरदस्ती उक्त भूमि पर कब्जा कर निर्माण कार्य करा रहे है।जबकि उक्त मामला माननीय न्यायालय कोर्ट संख्या तेरह बाराबंकी मे दौरान मुकदमा के चल रहा है।जिसमे यथा स्थिती बरकरार रखने का आदेश भी है।लेकिन हल्का लेखपाल की मिलीभगत से दंबग विपक्षी निर्माण कार्य कर रहे है।इस समबंध मे जब हल्का लेखपाल से बात करने की कोशिश की गयी तब उन्होने भद्दी भद्दी गालियो की बौछार कर दी।पत्रकार को पुलिस और चौकी के दलाल दे रहे है धमकी,पत्रकार को है अपनी जान का खतरा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here