बाराबंकी:अवैध वसूली की वीडियो वायरल करने वाले पत्रकार को मिल रही हैं धमकियां

0
771

जिला कारागार बाराबंकी

अवैध वसूली की वीडियो वायरल करने वाले पत्रकार को मिल रही हैं धमकियां।

,पत्रकार द्वारा भ्रष्टाचार उजागर करना पड़ गया महंगा, डराया अब धमकाया जा रहा है।
बाराबंकी। एक पत्रकार को भ्रष्टाचार की वीडियो वायरल करना काफी महंगा पढ़ गया है, उसके द्वारा बनाये गये वीडियो से जिला कारगार में हड़कम्प मच गया और भ्रष्टाचार छुपाने के लिए जल्द से जल्द दुकान हटाने व न हटाने पर मारफीन की पुड़िया रखकर जेल भेजने की धमकी दिये जाने से जनपद के पत्रकारों में काफी रोष व्याप्त हो गया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार भोपाल से संचालित समाचार एजेंसी एवं मासिक पत्रिका के बंकी संवाददाता शिवशंकर बाजपेई ने जिला कारागार बाराबंकी में चल रही अवैध वसूली से सम्बंधित एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दी जिससे कारागार के कुछ सिपाही संवाददाता की 40 वर्ष पुरानी दुकान (लइया चना आदि) जेल गेट पर आज दिनांक 22.06.2021 को समय करीब 4.00 बजे शाम आये और कहने लगे कि तुम बहुत बड़े पत्रकार बनते हो, भ्रष्टाचार को उजागर करते हों, अभी तुमको ठिकाने लगाते हैं कहते हुए गंदी-गंदी गालियां व जानमाल की धमकी दिया। संवाददाता से अभद्रभाषा का इस्तेमाल करते हुए धार्मिक गालिया कि तुम पंडित हो पंडिताई करो, पत्रकारिता न करो।
मालूम हो कि संवाददाता द्वारा जब वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल की गई तो जिला कारगार प्रशासन में हड़कम्प मच गया और आनन फानन में बचाव के लिए संवादाता को ही डरा धमका रहे हैं कि जल्द से जल्द अपनी दुकान हटा लो अन्यथा तुमको मारफीन आदि में फंसाकर जेल के अन्दर बंद करके सड़ा देंगे। सच को दबाने के लिए तरह-तरह के संवाददता को काफी डराया धमकाया जाना लोकतंत्र की खतरा उत्पन्न हो गया है, सोशल मीडिया पर वायरल वीडियों की जांच कराकर दोषियों के विरूद्ध कार्यवाही किया जाना चाहिए अगर इसी तरह भ्रष्टाचार को उजागर करने वालों धमकी मिलती रही तो आने वाले समय में कोई व्यक्ति सच उजागर करने की हिम्मत नहीं जुटा पायेगा। वर्तमान समय में जिला कारागार में दलालों का जमवाड़ा लगा रहता है जो जेल प्रशासन की हा में हा मिलाकर अपनी दुकान चलाते रहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here