बाराबंकी: रामनगर तहसील के अंतर्गत ग्राम नहामऊ, नहाने गए दूल्हे की करंट लगने से मौत

0
226

रिपोर्ट/अशोक कुमार सिंह/नारद संवाद/बाराबंकी

नहाते समय करेंट लगने से दूल्हे की मौत

रामनगर बाराबंकी परिजनो की खुशी उस वक्त खुशियां मातम में बदल गयी जब सेहरा सजने से पहले ही दूल्हे का जनाजा सज गया।घटना के बाद जिस घर मे शहनाई बजने वाली थी वहा रोने बिलखने की चीख पुकार सुनाई देने लगी।बारात जाने की तैयारी में आये मेहमान मय्यत की तैयारी में लग गये। परिजनों के अनुरोध पर पुलिस ने शव का पंचनामा भर कर परिवार को सौंप दिया है। प्राप्त विवरण के अनुसार थाना मसौली के अन्तर्गत तकिया मजरे नहामऊ मे वुधवार को बारात जाने से पहले दूल्हा मेराज पुत्र तफज्जुल उम्र करीब 22 वर्ष घर के बगल में ही स्थित मस्जिद में नहाने गया था।मस्जिद में लगे टुल्लू पम्प के तार को छूते ही छुआ वैसे ही मेराज करंट की चपेट में आ गया।किसी से सूचना पाकर परिजन मौके पर पहुच गये।किसी तरह उन्हे वहा से उठा कर इलाज के लिये जहांगीराबाद स्थित निजी अस्पताल ले जाने से पहले ही दूल्हे की मौत हो गयी।दूल्हे की मौत की खबर आते ही हसी खुशी वाले माहौल मे सिसकियां गूजने लगी। *दुल्हन के घर मे छाया मातम* विद्मुत की चपेट में आने से मौत के आगोश में समाये मेराज की बारात वुधवार को सीतापुर जिले के थाना रामपुर मथुरा के ग्राम तिलपुरा निवासी कल्लू के यहाँ जानी थी बारात के स्वागत के लिये पूरी तैयारियां हो चुकी थी तथा घर मेहमानों से भरा हुआ था परन्तु मेराज की मौत की खबर पहुंचते ही दुल्हन जाहिदा के घर मे भी कोहराम मच गया और जिस हाथों में शादी की मेहंदी लगी थी वही अब चीखपुकार मच गई।दुल्हन के परिजन सहित मेहमान भाग कर मय्यत में आ गये। मृतक घर का इकलौता कमाऊ पूत था।मौत के बाद मृतक की माता शरीफुननिशाँ एव पिता तफज्जुल हुसैन बदहवास होकर आने जाने वाले लोगों से रो रो कह रहे है कि बारात तैयार हो रही बारात चलना है।मृतक की 6 बहने एव तीन भाई है जिसमे चार बहनों की शादी हो चुकी है तथा दो छोटे भाई है उम्र की ढलान पर पहुँचे माता पिता का कमाऊ पूत था जिसकी मौत से पूरे गांव में कोहराम मचा हुआ है। परिजनों के अनुरोध पर पंचनामा के बाद सुपर्दे खाक कर दिये गये। घटना की सूचना पर पहुँची तिलोकपुर चौकी प्रभारी शिखा सिंह व दीवान प्रदीप कुमार मिश्रा ने शव को कब्जे में जांच पडताल की।परिजनों के अनुरोध पर ग्राम प्रधान प्रतिनिधि जगदीश यादव अधिवक्ता अनिल यादव एवं अन्य लोगो की मौजूदगी में पंचनामा भरकर परिजनों को सौप दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here