बाराबंकी:सिरौलीगौसपुर एसडीएम के निर्देश पर निर्माणाधीन चक मार्ग की पैमाइश करने पहुंची राजस्व टीम ने महिलाओं से की छेड़छाड़ दी गालियां जिस पर महिलाओं ने जमकर पीटा।

0
241

रिपोर्ट/जयशंकर पाण्डेय

सिरौलीगौसपुर बाराबंकी।विवाद के बाद एसडीएम के निर्देश पर निर्माणाधीन चक मार्ग की पैमाइश करने पहुंची राजस्व टीम को महिलाओं ने जमकर पीटा। घटना के बाद भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे उपजिलाधिकारी सुरेन्द्र पाल विश्वकर्मा ने घटना स्थल का निरीक्षण कर प्रभारी निरीक्षक बदोसराय दया शंकर सिंह को आरोपियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिए है। हल्का लेखपाल साकेत रावत की शिकायत पर बदोसराय पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर धड़पकड़ की कार्यवाही शुरू कर दी है। वही दूसरे पक्ष का आरोप है कि हल्का लेखपाल व कानूनगो द्वारा अनुसूचित जाति महिला से अश्लीलता पूर्वक अभद्र व्यवहार किया।जिसके बाद गांव की आक्रोशित महिलाओं से राजस्व टीम की झड़प हुई है और पुलिस पीड़ित महिला की शिकायत नहीं सुन रही है। मामला कोतवाली बदोसराय क्षेत्र के ग्राम बरदरी का है। यहां ग्राम प्रधान शिवा मिश्रा के दरवाजे से बाबू तेली के खेत तक करीब 800 मीटर चक मार्ग की पटाई का कार्य चल रहा था। जिसकी पैमाइश पूर्व में लेखपाल द्वारा कराई गई थी जिसमें लेखपाल ने 4 मीटर चौड़ाई व 800 मीटर लंबाई नाप कर दिया था किंतु करीब 100 मीटर चकरोड पटने के बाद गांव के ही लोगों द्वारा एसडीएम से नाप से अधिक चकरोड पटने की शिकायत की गई। शिकायत के बाद उपजिलाधिकारी के निर्देश पर राजस्व निरीक्षक दीनानाथ यादव के नेतृत्व में राजस्व टीम का गठन कर फिर से पैमाइश करने के निर्देश दिए गए मंगलवार को राजस्व टीम गांव पहुंचकर चकरोड की पैमाइश करते हुए अतिरिक्त पाटे गए चक मार्ग को खोदने के निर्देश मजदूरों को दिए जिस पर मजदूरों द्वारा प्रधान के मौके पर ना होने के कारण कहा गया कि प्रधान के आने के बाद फालतू चकरोड को काट दिया जाएगा। इसके बाद ग्राम प्रधान व लेखपाल के बीच दूरभाष पर वार्ता हुई किंतु बात नहीं बनी राजस्व टीम द्वारा मजदूरों पर चकरोड खोदने का दबाव बनाया जाने लगा जिसके बाद मजदूरों व राजस्व टीम के बीच नोकझोंक शुरू हो गई। इसके बाद ग्रामीण महिलाओं ने राजस्व टीम को पीट दिया। लेखपाल साकेत रावत ने ग्राम प्रधान शिवा मिश्रा शोभित मिश्रा अश्वनी त्रिपाठी देशराज नंदन संजय मौर्य अमित पाल मोहम्मद हारून राकेश उषा देवी वंदना सहित करीब आधा सैकड़ा से ऊपर अज्ञात महिला एवं पुरुषों के विरुद्ध मारपीट करने की शिकायत पुलिस से की है वहीं चक मार्ग पर कार्य कर रहे मनरेगा मजदूर विनोद की पत्नी अनुसूचित जाति महिला सुषमा देवी का आरोप है कि उसके खेत के बगल पट रहे चकरोड पर काम कर रहे उसके पति के साथ राजस्व टीम द्वारा गाली-गलौज किया जा रहा था मौके पर पहुंचकर बीच-बचाव करने लगी जिस पर हल्का लेखपाल एवं कानूनगो ने उसके साथ छेड़छाड़ करते हुए अश्लील अभद्रता करते हुए गंदी गंदी गालियां दी जिससे नाराज गांव की महिलाएं एकत्रित हो गई और अभद्रता का विरोध करने लगी। जिस पर लेखपाल और कानूनगो ने उसे मारा है। महिला सुषमा देवी का आरोप है कि पुलिस उसकी पीड़ा नहीं सुन रही है।इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक बदोसराय दयाशंकर सिंह ने बताया कि हल्का लेखपाल की तहरीर पर मुकदमा दर्ज करके कार्यवाही की जा रही है वहीं दूसरे पक्ष के संबंध में बताया कि 150 से 200 महिलाएं थाने पर आई थी उनके आरोप निराधार हैं इसकी जांच कराई जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here