बाराबंकी:सूरतगंज के अन्तर्गत ग्राम पंचायत जुरौन्डा मे ग्राम पंचायत सदस्य के प्रत्याशी के पिता पर मतदाता ने लगाया वोटर आईडी ना देने का आरोप

0
447

 

रिपोर्ट/अशोक कुमार सिंह/नारद संवाद/बाराबंकी।

रामनगर बाराबंकी गाव का प्रधान बन पाने और मन माफिक कैबिनेट का चयन करवाये जाने के लिये किस तरह से प्रयास करना चाहिये इस बात की शिक्षा प्राप्त करने के लिये कही दूर जाने की जरुरत नही है।जिसकी बानगी विकास खंड सूरतगंज के अन्तर्गत ग्राम पंचायत जुरौन्डा मे

दिनांक 12/6/2021 को समपन्न हो रहे ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिये चुनाव मे देखने को मिल गयी जहा वार्ड संख्या 02 से नव निर्वाचित प्रधान के पति रिंकू सिह सदस्य पद का चुनाव लड रहे थे।पीडित राम किशोर पुत्र रामनरायन और उनकी पत्नी का कहना था कि प्रवासी मजदूर के नाम पर नव निर्वाचित प्रधान के ससुर बीरेन्द्र सिह मेरी आई डी दोनो लोगो की यह कहकर ले आये थे कि आवास और मजदूरो को जो सहायता सरकार की तरफ से मिल रहा है उसमे नाम भेजना है वह आज मेरी आई डी मुझे नही दे रहे है।वोट डालने आये दोनो लोग निराश मन से दबंगई को कोस रहे थे।कितने लोग शिकार बने यह संख्या तो अधर मे है समूचे चुनाव के दौरान कुछ ऐसा ही माहौल दिखाई दे गया।बडी संख्या मे लोगो का कहना था कि निर्वाचन आयोग को चाहिये कि जो लोग गाव मे रहते नही है उनका कोई लेना देना पाच वर्ष मे नही रहता है व्यवस्था के बल पर एक बार गांव को आते है ऐसे लोग गांव की सरकार बनाने मे शामिल न होने पाये।बताते चले वार्ड संख्या 02 से राम समुझ लोध भी चुनाव लड रहे है जो इनके सजातीय है।यहा पर बात इतनी ही नही है प्राप्त जानकारी के अनुसार जी हा यदि आपको प्रधान बनना है तो आप सबसे पहले समर्थको और अपने परिजनो के परिवारो की दस बीस वर्ष पहले जिन लडकियो की शादी हो चुकी है उनका गांव से कोई लेना देना नही है फिर भी उन्हे आप वोटर लिस्ट मे दर्ज करवाईये।इसके अलावा पचासो वर्ष से जो लोग लखनऊ बाराबंकी जैसे स्थानो पर घर बनाकर रह रहे है गांव से कोई लेना देना नही है उन्हे भी वोटर लिस्ट मे दर्ज करवा ले।इससे भी यदि बात नही बन रही है तो दूसरे प्रत्याशियो के समर्थको की आई डी छल बल से चुनाव के हासिल कर उन्हे मतदान से वंचित रख सकते है।यह जानकारी पाते ही सेक्टर मजिस्टेट पहुचे तो पीडित के आरोपो को सुनकर उससे पल्ला झाड लिया।उनका कहना था कि यह विषय मेरे अधिकार क्षेत्र से बाहर है कोई दूसरी आई डी हो उससे मतदान कर सकते है।बडी संख्या मे गांव के जागरुक जनो ने मतदाता सूची मे दर्ज सभी लोगो के नाम आधार कार्ड से जोडवाये जाने की मांग निर्वाचन आयोग से की है जिससे ग्रामीणो को एक बडे विवाद से सदा के लिये निजात मिल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here