10 जून के बाद इस राज्य मे भारी बारिश की संभावना।

0
310

 

रिपोर्ट/संपादक-कृष्ण कुमार शुक्ल

 

नई दिल्ली

 दक्षिण पश्चिम मॉनसून मध्य अरब सागर के कुछ और हिस्सों, महाराष्ट्र के कुछ और हिस्सों, पूरे कर्नाटक, तेलंगाना के कुछ और भागो, पूरे तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश के कुछ और हिस्सों, मध्य बंगाल की खाड़ी और बंगाल की उत्तर-पूर्व की खाड़ी के और भागो, भारत के पूर्वोत्तर राज्यों (नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा, असम और मेघालय, अरुणाचल प्रदेश), उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम के अधिकांश हिस्सों में आज, 06 जून, 2021 को आगे बढ़ गया है।
●         दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के मजबूत होने और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल पर एक चक्रवाती प्रसार और पड़ोस में निचले क्षोभमंडल स्तर के कारण अगले 4-5 दिनों के दौरान पूर्वोत्तर राज्यों और इससे सटे पूर्वी भारत में व्यापक रूप से तेज़ वर्षा होने की संभावना है। 06 और 08 जून को अरुणाचल प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की आशंका है; असम और मेघालय और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में 08 और 09 जून को; 06-07 जून को नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में; 08 और 09 जून को ओडिशा के ऊपर; 10 जून को गांगेय पश्चिम बंगाल में, असम और मेघालय और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में आज, 06 जून और ओडिशा में 10 जून को भारी से बहुत भारी वर्षा होने की आशंका है।
●         उत्तरी महाराष्ट्र तट से उत्तरी केरल तट तक समुद्र के औसत स्तर पर अपतटीय ट्रफ के प्रभाव और कोंकण और गोवा के निचले क्षोभमंडल के स्तर पर एक चक्रवाती प्रसार के प्रभाव के तहत, गरज-चमक के साथ आंधी चलेगी और व्यापक रूप से भारी वर्षा की सम्भावना है, इसके अलावा आज 06 जून, 2021 को दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत और पश्चिमी तट के कुछ हिस्सों में भारी बारिश की संभावना है।
उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानों में 08 से 10 जून के दौरान प्रबल सतही हवाएँ (25-35 किलोमीटर प्रति घंटे) की रफ्तार से चलने की संभावना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here