बाराबंकी :सूरतगंज एडीओ पंचायत की पत्नी की संदिग्ध परिस्थिति में मौत।

0
1354

 

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल/नारद संवाद/बाराबंकी।

बाराबंकी


एडीओ  की पत्नी की संदिग्ध परिस्थिति में जनपद बाराबंकी के शहर कोतवाली क्षेत्र के पीरबटावन में रहने वाले एडीओ पंचायत सूरतगंज अभय शुक्ला की पत्नी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। शव घर में फांसी के फंदे से लटका मिला, मायके वालों ने दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाते हुए मुकदमा पंजीकृत किए जाने की तहरीर दिया है।
जिसमें एडीओ पंचायत और उनके परिजनों को नामजद किया। पुलिस ने एडीओ पंचायत व उसके भाई को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार रामनगर तहसील क्षेत्र के मीतपुर निवासी गिन्नी लाल त्रिवेदी की पुत्री पूजा (संगीता) का विवाह वर्ष 2014 में पंचायती राज विभाग में ADO के पद पर तैनात अभय शुक्ला से हुआ था ।
अभय शुक्ला बाराबंकी शहर के भीतरी पीरबटावन मोहल्ले में रहते हैं। वर्तमान समय में अभय शुक्ला एडीओ पंचायत सूरतगंज में तैनात हैं। इसके साथ ही उनके पास पंचायती राज विभाग बाराबंकी में पटल प्रभारी का भी चार्ज है।
म्रतक पूजा के भाई विवेक त्रिवेदी ने बताया कि विवाह के बाद से ही दहेज के लिए ससुराल वाले परेशान कर रहे थे। बीते दिनों अभय शुक्ला व उनके परिजन ₹50 लाख रुपए की मांग कर रहे थे। इसके साथ ही वह कह रहे थे कि तुम्हारे मायके में भाई के पास जो दो इंटरलॉकिंग ईंट फैक्ट्री है उसमें से एक मुझे दे दो।
विवेक ने बताया कि शनिवार की शाम जब मैं अपनी बहन से मिलने गया था। इस दौरान उसने बताया कि दहेज की मांग को लेकर ससुराल वालों ने मारा- पीटा और जान से मारने की धमकी भी दी। पुत्री के पिता गिन्नी लाल त्रिवेदी ने बाराबंकी शहर कोतवाली में तहरीर देते हुए कहा कि मेरा दामाद अभय कुमार शुक्ला, उसकी मां माया शुक्ला, उसके भाई अमित कुमार शुक्ला, बहन गुड़िया और उसके पति प्रदीप कुमार द्विवेदी ने मिलकर उसकी पुत्री संगीता की हत्या कर घटना से गुमराह करने के लिए शव को फंदे से लटका दिया।
एडीओ पंचायत अभय शुक्ला और उनके भाई को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

इस संबंध में बाराबंकी पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मुकदमा दर्ज करके आगे की कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here