*बाराबंकी:घाघरा नदी के तटवर्ती गांव को बाढ़ की विभीषिका से बचाने के लिए जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ने बांधों का किया निरीक्षण दिए सख्त निर्देश*।

0
136

 

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल/जयशंकर पाण्डेय/सिरौलीगौसपुर

सिरौलीगौसपुर बाराबंकी।घाघरा नदी के तटवर्ती गांव को बाढ़ की विभीषिका से बचाने के लिए कराए जा रहे सुरक्षात्मक कार्यों का निरीक्षण जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ने क्षेत्रीय विधायक और सांसद के साथ किया। इस दौरान उन्होंने क्षेत्र के ग्राम हाता तिलवारी गोबरहा सनावा सहित आदि गांव में कराए जा रहे बाढ़ सुरक्षात्मक कार्यों का बारीकी से निरीक्षण करते हुए अधिकारियों को बाढ़ आने से पूर्व सारे कार्य पूरे करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद की हमारी पहली सरकार है। जो बाढ़ आने से पूर्व पिछले वित्तीय वर्ष में ही करीब 53 करोड़ रुपए के कार्य को जिले भर में मंजूरी दिया है। जो बाढ़ आने से पूर्व पूरे होंगे। अभी तक सरकारें बाढ़ के दौरान सुरक्षात्मक कार्य कराती थी जिससे सरकारी धन बाढ़ के पानी में बह जाता था लेकिन हमारी सरकार ने बाढ़ आने से पूर्व ही सारे कार्य कराने का निर्णय लिया है। जो चल रहा है। और बाढ़ आने से पूर्व पूरा होगा। जो भी ठेकेदार या अधिकारी इस कार्य में लापरवाही बरतेगा उस पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएगी। बताते चलें घाघरा नदी के तट पर बसे गांव गोबरहा तिलवारी सनावा हाता आदि बीते वर्ष की बाढ़ में काफी क्षतिग्रस्त हुए थे इन गांवों की सैकड़ों बीघा कृषि योग्य भूमि एवं कुछ मकान कट कर नदी में समा गए थे। इसके बाद शासन द्वारा इन गांवों को बचाने के लिए करोड़ों रुपए की बाढ़ सुरक्षात्मक योजनाएं बनाकर इन को बचाने के लिए कराए जा रहे हैं। बीते दो-तीन वर्ष पूर्व घाघरा की भीषण बाढ़ में करीब आधा सैकड़ा लोगों के घर कट कर नदी में समाहित हो गए थे। तब से यह घर विहीन लोग बंदे पर झोपड़ियां डालकर रह रहे हैं। मंगलवार को क्षेत्र में निरीक्षण करने पहुंचे जल शक्ति मंत्री को इन आवास विहीन ग्रामीणों ने एक मांग पत्र सौंप कर आवास बनाने के लिए भूमि एवं आवास दिलाए जाने की मांग की है। इन लोगों की समस्या को दूर करने के लिए मंत्री ने अपर जिलाधिकारी संदीप कुमार गुप्ता को निर्देशित किया है। इस मौके पर जल शक्ति मंत्री के साथ रामनगर विधायक शरद कुमार अवस्थी सांसद उपेंद्र रावत भाजपा जिला अध्यक्ष अवधेश कुमार श्रीवास्तव मंडल अध्यक्ष संतोष पांडे बाढ़ खंड के अधिशासी अभियंता शशिकांत सिंह उप जिलाधिकारी सिरौलीगौसपुर सुरेंद्र पाल विश्वकर्मा सहित तमाम विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।
संपादक/बाराबंकी/कृष्ण कुमार शुक्ल।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here