रामनगर:बाबा पारसनाथ कॉलेज में डी फार्मा के लिए प्रवेश प्रारंभ शुरू

0
185

 

 

 

 

                          बाबा पारसनाथ कॉलेज में डी फार्मा के लिए प्रवेश प्रारंभ शुरू

      रिपोर्ट: एडिटर संपादक कृष्ण कुमार शुक्ल

 

                         रामनगर बाराबंकी

बाराबंकी की तहसील रामनगर स्थित लोधेश्वर महादेवा ऑडिटोरियम के निकट एक व्यावसायिक शिक्षा प्रदान करने वाला एक मात्र पहला कालेज रामनगर क्षेत्र को मिलने वाला है जिससे आस पास के सैकड़ों गांवों के छात्रों को नजदीक ही प्रोफेसनल डिग्री मिल जायेगी।इस कालेज के खुलने से स्थानीय लोगो में भारी उत्साह है।नवनिर्मित बीपी एन कॉलेज में सर्वप्रथम डी फार्मा सत्र 2022-23 के लिए प्रवेश प्रारंभ शुरू हो गया है।अयोध्या धाम से पधारे महंत बोधायन दास ने महादेवा ऑडिटोरियम स्थित करोड़ों की लागत से नवनिर्मित बिल्डिंग का निर्माण कर दिया है।जिसमें व्यवसायिक कोर्स से लेकर नर्सरी से  इंटरमीडिएट शिक्षा  उच्च शिक्षा कॉलेज में प्रदान की जाएगी।इस कालेज में दार्जलिंग केरला लखनऊ से शिक्षक आएंगे कॉलेज में पढ़ाने के लिए। महंत बोधायन दास ने बताया लखनऊ दार्जिलिंग और केरला से शिक्षक आएंगे इस कॉलेज में पढ़ाने के लिए जल्द ही जनवरी 2023 में एडमिशन शुरू हो जाएंगे।हमारा प्रयास रहेगा कि हम रामनगर महादेवा में अच्छी से अच्छी शिक्षा इस क्षेत्र को प्रदान कर सके।श्री दास ने बताया साइंस साइड से इंटर मीडिएट पास छात्र छात्राएं डी फार्मा एलोपैथ की दो वर्षीय डिग्री मेरे बाबा पारस नाथ कालेज ऑफ फार्मेसी एंड पैरा मेडिकल साइंस से प्राप्त कर सकते है। बिल्डिंग बनकर तैयार हो गई है।अब साइंस का कोई भी छात्र उदास नहीं होगा मेरे कालेज से डी फार्मा की डिग्री प्राप्त कर सकता है।पहले लोगो को प्रोफेशनल कोर्स की शिक्षा प्राप्त करने लिए यहां के लोगों को जनपद बाराबंकी व राजधानी लखनऊ शहर जाना पड़ता था।परंतु अब साइंस के छात्रों के लिए हम अपने कॉलेज में डिग्री प्रदान करेंगे। बाबा पारसनाथ फार्मेसी ऑफ कॉलेज मैं डी फार्मा की कुल 60 सीटें हैं जिसमें से 37 सीटें फुल हो चुकी है एवं अनुसूचित जनजाति के लिए 6 सीटें आरक्षित भी हैं। 31 दिसंबर तक कोई भी छात्र एडमिशन ले सकता है। उसके लिए साइंस का छात्र होना जरूरी है। इंटरमीडिएट और हाई स्कूल का अंकपत्र के साथ चार फोटो पासपोर्ट साइज की चरित्र प्रमाण पत्र के साथ संलग्न करके विद्यालय में जमा कर के एडमिशन ले सकता है। बाबा पारसनाथ कॉलेज में कुल 24 कक्ष ऊपर से नीचे मिलाकर हैं।और 12 प्रशासनिक कक्ष हैं। बड़ा खेल का मैदान है। स्वच्छ वातावरण है। कंप्यूटर कक्ष,पुस्तकालय, वाचनालय,प्रयोगनात्मक मशीन लगा दी गई है।विद्यार्थियों की पढ़ाई के लिए सबसे अच्छी जगह पर कालेज का निर्माण किया गया है जिससे छात्रों को अच्छा प्राकृतिक वातावरण मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here