घाघरा नदी में छोड़ा गया नेपाल से साढ़े चार लाख क्यूसेक पानी

0
192

                       

 

                रिपोर्ट:एडिटर कृष्ण कुमार शुक्ल
रामनगर बाराबंकी। रविवार को पड़ोसी देश नेपाल से घाघरा नदी में करीब साढ़े 4 लाख क्यूसेक पानी सरयू नदी में छोड़ा गया है। जिससे घाघरा नदी ताबड़तोड़ बढ़ रही है। आसपास के हजारों ग्रामीण दहशत में आ गए हैं।इस समय घाघरा का जलस्तर 106.626 है जो खतरे के निशान से 60 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है।तहसील रामनगर अंतर्गत घाघरा नदी में बीते दिनों में चार लाख क्यूसेक पानी और नेपाल के शारदा बैराज से छोड़ा गया था।जिससे सरयू नदी उफान पर चल रही है। आसपास के गांव के लोग पूरी तरह से भयभीत हो गए है। बाढ़ का पानी अब ग्रामीणों के घर में घुसने लगा है। कोरिन पुरवा मजरे तपेशिपाह में आज ग्रामीणों के घरों में पानी घुस गया है।अभी तक तहसील प्रशासन के द्वारा ग्रामीणों को कोई राहत सामग्री नहीं वितरित की गई है। घाघरा नदी आसपास के दर्जनों गांव में अपना फैलाव कर लिया है कृषि योग्य भूमि पूरी तरह से डूबती नजर आ रही है। कोरिनपुरवा के ग्रामीण राजित राम ,सुनील ने बताया अब हमारे घरों के पास घाघरा नदी का पानी पहुंच गया है इंटरलॉकिंग रोड पर पानी चल रहा है हम लोग बहुत भयभीत हैं अभी तक तहसील प्रशासन के द्वारा कोई राहत सामग्री वितरित नहीं की गई है। बाढ़ खंड अधिकारी शशिकांत सिंह ने बताया घाघरा नदी खतरे के निशान से 60 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है पड़ोसी देश नेपाल के द्वारा लगातार पानी छोड़ा जा रहा है जिससे घाघरा का जलस्तर काफी बढ़ गया है बाढ़ राहत सामग्री ग्रामीणों को जिला प्रशासन के द्वारा जो भी प्रक्रिया है उसके हिसाब से दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here