बड़े पैमाने पर घटिया सामग्री इस्तेमाल कर मानक के विपरीत बनवाया गया किसान कल्याण केंद्र हुआ जर्जर

0
213

रामनगर/बाराबंकी

रिपोर्ट/विवेक कुमार शुक्ला

नवनिर्मित कृषि कल्याण केंद्र में जमकर हुआ सरकारी धन का बंदरबांट सुचारू रूप से संचालित होने से पहले ही भवन की दीवारों में आई दरारें । बड़े पैमाने पर घटिया सामग्री इस्तेमाल कर मानक के विपरीत बनवाया गया किसान कल्याण केंद्र का भवन जर्जर हो गया लाखों रुपए की लागत से बनवाए गए इस भवन में अभी किसान कल्याण केंद्र सुचारू रूप से संचालित भी नहीं हो सका और बिल्डिंग जर्जर हो गई।बिल्डिंग में जगह-जगह दरारें पड़ गई हैं,कई जगह से दीवारें क्रेक हो गई हैं, प्लास्टर टूट कर गिर रहा है, भवन बनवाने वाली कारदायी संस्था ने 15 दिन पहले इस भवन को हैंड ओवर किया है ज्ञात हो कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा जीरो टारलेंस की नीति पर काम करते हुए भ्रष्टाचार मुक्त सरकार का दावा किया जा रहा है लेकिन दोनों हाथों से रुपए में जुटे भ्रष्ट अधिकारी अपने दम पर या फिर झूठ का सहारा लेकर मुख्यमंत्री के आदेशों और निर्देशों की धज्जियां उड़ा रहे करीब 80 लाख की लागत से बनाए गए इस भवन में किस तरह सरकारी धन का बंदरबांट किया गया है इसका वर्णन बिल्डिंग के हालात स्वयं वर्णन करती है संवाददाता द्वारा जब भवन का निरीक्षण किया गया तो जगह-जगह से दरारे और दीवारें चिपकी हुई मिली ठेकेदार के द्वारा जबरदस्त तरीके से घटिया सामग्री इस्तेमाल की गई लेकिन उसे छुपाने के लिए बेहतर ढंग से रंग रोगन करा दिया गया शासन में बैठे आला अफसर घटिया भवन बनवाने वाले ठेकेदार व अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही करेंगे या नहीं यह तो भविष्य के गर्भ में छुपा हुआ है लेकिन अधिकारी किस तरह भ्रष्टाचार में डूबे हुए हैं यह साफ साफ दिखाई दे रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here