रामनगर पीजी कॉलेज में एम ए अर्थशास्त्र विषय की मिली मान्यता:प्राचार्य कौशलेंद्र विक्रम मिश्र

0
193

 

 

 

रिपोर्ट:एडिटर कृष्ण कुमार शुक्ल रामनगर बाराबंकी। पीजी कॉलेज रामनगर में प्राचार्य डॉ कौशलेंद्र विक्रम मिश्र की अध्यक्षता में एक प्रेस वार्ता पीजी कॉलेज के अध्यापकों की उपस्थिति में आयोजित की गई ,जिसमें उन्होंने कहा की अथक प्रयासों द्वारा महाविद्यालय में अर्थशास्त्र में पोस्ट ग्रेजुएट (एम ए) विषय की मान्यता इसी सत्र से मिल रही है।और हमारी मांग अन्य कई विषयों की भी है। उसके लिए भी हम प्रयासरत हैं। प्राचार्य ने कहा हमारे पीजी कॉलेज में ब्लैक बोर्ड बहुत खराब था उस पर कोई अध्यापक सही से लिख नहीं सकता हमने इसको व्हाइट बोर्ड करा दिया जिससे अब शिक्षक आसानी से लिख सकते है।हमने स्मार्ट बोर्ड बनाने की कोशिश की और बना दिया। पिछले वर्ष कि 28 अप्रैल को पीजी कालेज का बजट पास हुआ मई-जून में निर्माण कार्य कराना था, तीन से चार लाख का बजट था कोरोना से थोड़ी राहत मिली तो निर्माण कार्य जारी हुआ परंतु ई टेंडरिंग प्रक्रिया में अगर शिक्षा निदेशालय जोड़ देती आईडी पासवर्ड अगर मिल जाता तो कार्य आसान हो जाता।पूर्व सांसद प्रियंका सिंह रावत के कार्यकाल का पैसा है उनसे भी मेरी बात होती रहती है और मैं प्रयासरत हूं कि जल्दी से जल्दी कार्य किया जाए।51वे उच्चतर शिक्षा आयोग से रामनगर पीजी कॉलेज में ग्यारह

शिक्षकों के पद एक से दो वर्ष में होंगे। B.Ed में 3 पद ,शिक्षा शास्त्र में 2 पद, समाजशास्त्र में 2 पद भूगोल में 1 पद, अर्थशास्त्र में 1 पद ,शारीरिक शिक्षा में 1 पद, व राजनीति शास्त्र में एक पद है। प्राचार्य ने कहा तृतीय चतुर्थ श्रेणी स्टाफ की नियुक्ति कैसे होगी क्योंकि स्टाफ कम है इनको अस्थाई भी करना है इसके लिए कोशिश जारी है उन्होंने कहा राधा गुप्ता चतुर्थ श्रेणी ममता देवी चतुर्थ श्रेणी स्थाई रूप से कार्यरत पीजी कॉलेज में हो गई है। उन्होंने डॉक्टर अखिलेश पटेल व डॉक्टर विश्वेश मिश्रा के अथक प्रयास की सराहना की। उन्होंने कहा है विद्यालय के समस्त स्टॉप के द्वारा हमको सहयोग मिल रहा है।और प्राचार्य ने बताया पिछले वर्ष जो विश्वविद्यालय द्वारा परीक्षा शुल्क छात्राओं से प्रति छात्र करीब ₹900 लिया गया था उसको प्रत्येक छात्रों के अकाउंट में वापस कराने का कार्य जल्द ही किया जाएगा। इस अवसर पर डॉक्टर सुनीत कुमार सिंह ,डॉक्टर अखिलेश पटेल, डॉक्टर विश्वेश मिश्रा, डॉक्टर के के सिंह, डॉक्टर मनोज कुमार सिंह, सहित कई अध्यापक व कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here