महादेवा पीएचसी परिसर में पड़े मृत सांड से उठ रही दुर्गंध के बारे में पत्रकार के द्वारा जानकारी चाहने पर डॉक्टर ने किया अभद्र भाषा का प्रयोग

0
276

रामनगर/बाराबंकी

महादेव पीएचसी के डॉ विवेक गुप्ता सुर्खियों में बने रहने के लिए तीमारदारों व मरीजों पर दिखाते है रौब

जहां एक तरफ उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक प्रदेश के हॉस्पिटलों के डाक्टरों से मरीजों व तीमारदारों से सरल व्यवहार व अच्छा उपचार करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं वहीं दूसरी तरफ तहसील रामनगर के सुप्रसिद्ध लोधेश्वर महादेवा धाम के समीप स्थित पीएचसी में बैठे डॉ विवेक कुमार गुप्ता आए दिन मरीजों व तीमारदारों से अभद्र टिप्पणी कर सुर्खियों में बने रहते हैं।इससे साफ जाहिर होता है कि उपमुख्यमंत्री के निर्देशों का इनको जरा सा भी ध्यान नहीं है। उनकी उम्मीदों पर पलीता लगाने का कार्य कर रहे। आखिर किसकी सह पर यह डॉक्टर मरीज व तीमारदारों से अभद्र टिप्पणियां करके सुर्खियों में बना रहता हैं।यह गर्भ में छुपा हुआ है।तहसील क्षेत्र रामनगर अंतर्गत सुप्रसिद्ध लोधेश्वर महादेवा में स्थित पीएचसी पर उपचार कराने हेतु पत्रकार के पहुंचने पर हॉस्पिटल परिसर में पड़े मृत सांड की दुर्गंध का एहसास हुआ। जिसका निरीक्षण करना शुरू कर दिया। उन्होंने देखा कि एक मृत सांड सीएचसी परिसर में मृत पडा़ हुआ था।जिसको मिट्टी के द्वारा ढक दिया गया था। पत्रकार ने उसे अपने कैमरे में कैद कर लिया।और पीएचसी पर बैठे डॉ विवेक गुप्ता से उस मृत सांड़ के संबंध में जानकारी चाही तो।वह डॉक्टर अपना आपा खो कर पत्रकार से अभद्र टिप्पणियां करने लगा। जिस पर पत्रकार ने आपत्ति जताई। लेकिन अपने रौब मे चूर डॉ विवेक गुप्ता लगातार अभद्र टिप्पणियां करता रहा।जागरूक जनों की चर्चा के मुताबिक डॉ हॉस्पिटल में आए हुए मरीजों व तीमारदारों से अभद्रता आए दिन करता रहता है। इसकी शिकायत पहले भी की जा चुकी है। लेकिन किसी जिम्मेदार ने गौर फरमाना उचित नहीं समझा।आखिर किसकी सह पर यह डॉक्टर बैठा हुआ है।जिसके खिलाफ कई बार शिकायत भी की जा चुकी है और इसकी खबरें भी कई समाचार पत्रों में प्रकाशित की जा चुकी है।लेकिन अभी तक मामले को संज्ञान में नहीं लिया गया है। इस संबंध में जिला चिकित्साधिकारी से बात करने पर उन्होंने आश्वासन देते हुए कहा कि जांच कर दोषी पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here