श्रावण मास मेले की व्यवस्था के मद्देनजर जिला कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक का आयोजन किया गया

0
222

जनपद/बाराबंकी

रिपोर्ट/विवेक कुमार शुक्ला

जिला कलेक्ट्रेट सभागार में एक बैठक का आयोजन जिला अधिकारी डॉ आदर्श सिंह की अध्यक्षता में किया गया। बैठक का मुख्य उद्देश्य सुप्रसिद्ध लोधेश्वर महादेवा में 9 दिन बाद होने वाले श्रावण मास के मेले की साफ-सफाई पेयजल प्रकाश व सुरक्षा व्यवस्था को लेकर शासन प्रशासन को अलर्ट करना था। आयोजित बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने समस्त मेला परिसर में प्रकाश पेयजल साफ-सफाई बैरिकेडिंग शौचालय सहित मेला अभरण क्षेत्र में एनडीआरएफ टीम सहित आदि व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए। डीएम ने सख्त लफ्जों में समस्त मेला परिसर को पॉलिथीन मुक्त बनाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अधिशासी अभियंता रामनगर मनीष राय व बीडीओ रामनगर और बी डी ओ सूरतगंज मेला परिसर में पॉलिथीन पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए। कजरी तीज के दिन होने वाली लाखों की भीड़ को सुव्यवस्थित दर्शन पूजन कराने के निर्देश दिए। यहां इस पवित्र मास के सभी सोमवार सहित कजरी तीज में लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं का तांता लगता है। पुलिस कप्तान ने कहा की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए समस्त मेला परिसर में बजने वाले लाउड स्पीकर की आवाज कम होनी चाहिए। जिससे कि खोया पाया केंद्र की आवाज लोगों तक आसानी से पहुंच सके। जिसके लिए पुलिस अधीक्षक ने क्षेत्राधिकारी रामनगर दिनेश कुमार दुबे को मेला परिसर सहित मंदिर पर लगे लाउड स्पीकर की आवाज को कम ध्वनि में बजाने के निर्देश दिए हैं। पुलिस अधीक्षक ने रामनगर कोतवाल को निर्देश देते हुए कहा कि महिला शौचालय वाहन के पास एक महिला पुलिस कर्मी की तैनाती सुनिश्चित करें। डीएम ने मेला परिसर में साफ-सफाई की व्यवस्था बी डी ओ रामनगर बी डी ओ सूरतगंज व अधिशासी अधिकारी रामनगर को सौंपी है। जो अपने 143 सफाई कर्मियों के साथ मेला परिसर में साफ सफाई व्यवस्था में लगे रहेंगे। मेला परिसर में लगने वाली दुकानों के लिए जिला खाद्य अधिकारी को निर्देश देते हुए डीएम ने कहा कि आपकी टीम समय-समय पर मेला परिसर में मौजूद रहकर सभी दुकानों पर बिकने वाली सामग्रियों की जांच करती रहेगी। आगे कहा कि रामनगर बुढ़वल स्टेशन सहित मेला परिसर के दोनों अभरण क्षेत्रों में प्रकाश की समुचित व्यवस्था के साथ अभरण में जाल भी लगाए जाएंगे। जिससे विगत वर्ष की भांति जनहानि न हो। श्रावण मास के मेले में सभी जिला मजिस्ट्रेटों को 8 घंटे ड्यूटी करने के भी निर्देश दिए गए।

जिला कलेक्ट्रेट सभागार की बैठक में कई लाख की लागत से लोधेश्वर में बने अडिटोरियम की बदहाली पर उठाए गए सवाल पर डीएम ने दिया आश्वासन

भाजपा के पिछले संसदीय कार्यकाल में जिले की तत्कालीन सांसद प्रियंका सिंह रावत ने 75 लाख रुपए की लागत से यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए एक मिनी ऑडिटोरियम व शौचालय सहित सुव्यवस्थित पेयजल व्यवस्था की थी। लेकिन विभागीय लापरवाही के चलते सरकार की एक महत्वकांक्षी योजना संबंधित आला अधिकारियों अनदेखी की भेंट चढ़ गई। जबकि इस ऑडिटोरियम में फैली अव्यवस्थाओं पर अनेकों बार समाचार पत्रों में खबरें भी प्रकाशित की जा चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here