जर्जर पड़े सड़क मार्ग सरकार के वादों की खोल रहे पोल जिम्मेदार बेखबर

0
125

रामनगर/बाराबंकी

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल/विवेक शुक्ल

जहां एक तरफ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा करोड़ों खर्च कर शहर व ग्रामीण क्षेत्रों के मार्गो को गड्ढा मुक्त करने का निर्देश दे रहे हैं वहीं दूसरी तरफ संबंधित विभागीय जिम्मेदार लोग सरकार की मंशा पर पूरी तरह से पलीता लगाने का कार्य कर रहे हैं। तहसील क्षेत्र रामनगर अंतर्गत ग्राम बड़नपुर से लैंन गांव से होकर बिंदौरा परसपुर अलीपुर तक सड़क मार्ग का निर्माण 2014/15 मे पूर्वांचल विकास निधि के द्वारा किया गया था। सड़क मार्ग काफी पुराना हो जाने के चलते पूरी तरह से जर्जर हो गया है । जिसकी तरफ कोई भी जिम्मेदार ध्यान देना मुनासिब नहीं समझ रहे है। संबंधित विभाग की अनदेखी के चलते मार्ग जर्जर अवस्था में पड़ा हुआ है।उस पर निकलने वाले राहगीरों को काफी दुश्वारियां का सामना करना पड़ता है सड़क मार्ग पर काफी गड्ढे होने के कारण मार्ग पर निकलने वाले राहगीरों के लिए दुर्घटना की संभावना भी बनी रहती है। इस सड़क मार्ग के किनारे बारिश के कारण काफी कटान भी हो गई है। जिसके चलते जगह जगह सड़क के किनारे भयानक गड्ढों में तब्दील है। जिससे दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। उसी मार्ग से स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों की बसें भी निकलती है आमने सामने चार पहिया वाहन आ जाने के बाद ड्राइवर काफी मेहनत मसकत करने के बाद ही निकल पाते हैं। वही भागू शाह पुलिया के पास से ग्राम सोहाई से होते हुए पिन्नापुर जाने वाला मार्ग भी काफी जर्जर अवस्था में पड़ा हुआ है उस सड़क मार्ग पर भी हजारों की संख्या में निकलने वाले राहगीरों को भी काफी दुश्वारियां का सामना करना पड़ता है लेकिन कोई जिम्मेदार विभागीय अधिकारी संज्ञान में ना लेकर अनदेखा कर रहे है। इससे साफ जाहिर होता है कि विभागीय आलाधिकारियों की लापरवाही के चलते देश और प्रदेश सरकार की मंशा सड़क मार्गों पर गड्ढे मुक्त कराने की दावेदारी जमीनी स्तर पर ना उतरकर कागजों पर ही अपना दावा कर रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here