ग्राम जोरौंडा में नालियों की व्यवस्था दुरुस्त न होने के कारण मार्गों पर जलजमाव की स्थिति बरकरार

0
172

रामनगर/बाराबंकी

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल/विवेक शुक्ल

एक तरफ देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा निरन्तर गाँवो के कायाकल्प कराये जाने को लेकर लाखो करोड़ों रुपये भेजकर चहुमुखी विकास कार्यो का सपना सजोये है।लेकिन विकास खंड सूरतगंज के अन्तर्गत ग्राम पंचायत जुरौन्डा मे वर्षो से नाली का एक चैम्बर खुला रहने के कारण ऊंचा करने के लिये तरस रहा था।दस ईटे और दो तसला मसाला भी उपलब्ध हो पाने मे बेहरी लगाई गयी।मीडिया की सुर्खियो मे मामला छा जाने के बाद बी डी ओ ने सज्ञान लिया पीड़ित ने ईटे और बालू की बेहरी देकर चैम्बर को ऊँचा करवाकर कीचड़ से मुक्ती प्राप्त कर ली।जागरुक जनो मे सवाल तो इस बात का है कि ग्राम सभा फन्ड के खाते पर आया धन कहा व्यय कर लिया है।ग्रामीणो ने गांव मे आये सरकारी धन के व्यय की जांच करवाये जाने की मांग की है। ज्ञात हो कि विकास खंड सूरतगंज के अन्तर्गत ग्राम पंचायत जुरौन्डा मे अन्डर ग्राउन्ड नाली जाम होने के कारण गंदा पानी बीच चौराहे पर भर रहा था।एक चैम्बर का ढक्कन टूट जाने के चलते उसकी ईटे भी कुछ निकल गयी थी। उसके नीचा हो जाने के कारण उसमे कीचड़ झिल्ली आदि अवरोधक भर गये।इधर तीन माह से गाँव के मुख्य चौराहे पर वह पानी भर रहा था।बी डी ओ के आदेश पर सफाई कर्मियो की टीम गांव को पहुंच गयी।सफाई कर्मियो ने बास के फरचे से अनडर ग्राउन्ड नाली को साफ कर पानी चालू कर दिया मगर सफाई कर्मचारियो का कहना था कि दस ईट और दो तसला मसाला लगाकर चैम्बर ऊंचा नही किया जायेगा तो यह मिट्टी और अन्दर बहकर जाने वाली झिल्लिया फिर जाम कर देगी।काफी जद्दोजहद के बाद ग्राम प्रधान के ससुँर सीमेन्ट और राजगीर लेकर आये और पीड़ित संदीप सिंह ने ईटै और बालू देकर संतोष व्यक्त कर कहा चलो कीचड़ और गंदे पानी से अब मुक्ती मिलेगी।लेकिन ग्रामीणो की ओर से सवाल उठ रहे थे कि ग्राम पंचायत के फन्ड मे आया धन कहा खर्च हो गया जो धन का अभाव है एक तालाब मे मात्र छः घण्टे पानी भरने और एक नाली के ढक्कन के अलावा कोई कार्य ग्राम सभा फन्ड से हुआ ही नही है।नालियो की मरम्मत का कार्य क्या बेहरी से ही पूर्ण होगा। ग्रामीणों का कहना है कि कोई सफाई कर्मी तैनात नहीं है। जिसके चलते सफाई व्यवस्था ध्वस्त है।और मार्गों पर नालियों का गंदा पानी बह रहा है।मार्ग पर निकलने के लिए काफी दुश्वारियां का सामना करना पड़ता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here