फाइनेंस कंपनी के नाम पर सरेआम गुंडागर्दी,,,,,पेपर देखने के बाद भी पैसों की करते हैं डिमांड-शोशल मीडिया पर वीडियो हुआ वायरल

0
479

बाराबंकी

फाइनेंस कंपनी के नाम पर खुलेआम अवैध रूप से की जा रही है धन उगाही,,,,पुलिस बनी मूकदर्शक

जिले में कई जगह फाइनेंस के नाम पर गाड़ियों द्वारा हाईवे पर आने जाने वाले बड़े-छोटे वाहनों से वसूली की जाती है यह लोग फाइनेंस के वड़े अधिकारी बताकर हाईवे पर जा रहे वाहनों को रोकते हैं उनके कागज सही होने के बाद भी उनसे पैसों की डिमांड भी करते हैं जिसमें कई वाहन चालक पैसा नहीं देते हैं जिनसे यह लोग गाली गलौज और गुंडई कर अभद्र भाषा का भी प्रयोग करते हैं सोमवार सुबह एक हैदरगढ़ लखनऊ-सुल्तानपुर रोड का वीडियो सामने आया है जिसमें सुलतानपुर लखनऊ रोड पर फाइनेंस कंपनी के नाम पर चल रही गाड़ी ट्रक चालकों से अभद्र भाषा का प्रयोग कर उनके कागज चेक करने का कार्य करते हैं सूत्रों की जानकारी के अनुसार फाइनेंस के नाम पर यह गाड़ी हैदरगढ़ में हाईवे पर खड़ी होती है इस गाड़ी में चार से पाँच लोग रहते हैं यह भी कहा जा रहा है कि यह अवैध वसूली गैंग शराब के नशे में भी रहता है सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो ने तबाही मचा कर रखी हुई है वीडियो में दिखाया जा रहा है कि ट्रक चालक द्वारा कागज़ात दिखाने के बावजूद भी उसको नहीं जाने दिया जा रहा है साथ ही उससे अभद्र व्यवहार भी किया जा रहा है। हैदर गढ़ में अवैध वसूली का यह खेल पिछले कई महीनों से चलता चला रहा है कई बार वाहन चालकों ने इसकी शिकायत परिवहन विभाग सहित प्रशासनिक अधिकारियों से की लेकिन सिस्टम के भ्रस्ट अधिकारियों के कान में जूं तक नहीं रेंगा। जहां एक ओर सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ भ्रष्टाचार और गुंडाराज पर लगाम लगाने के लिए अफसरों को दिशा निर्देश जारी कर रहे हैं तो वही हैदर गढ़ में अवैध वसूली का खेल बहुत जोरों पर है, जिसको लेकर सम्बंधित अधिकारी भी इस बसूली गैंग से भारी भरकम महीने की रकम लेते हैं जिसकी बजह से कोई ठोस कार्यवाही करने में कतराते नजर आते हैं

कितना सही कितना गलत है यह- अवैध वसूली का है गोरखधंधा

वायरल वीडियो के मुताबिक यह है अनुमान लगाया जा रहा है कि जब मोटर मालिक या वाहन चालक अपने वाहन के कागजात दिखा दे फिर भी उनको फाइनेंस के नाम पर धमकाया जा रहा है लखनऊ और बनारस की ओर से आने जाने वाले वाहनों से फाइनेंस के नाम पर उनको रोंक कर प्रताड़ित कर उनसे भारी भरकम रकम की डिमांड यह वसूली गैंग द्वारा की जाती है कई बार ऐसा भी देखने को मिला है वाहन चालक द्वारा पैसा ना देने पर बाहन खड़ा करने जैसी कार्यवाही की बात कर काफी समय तक परेशान भी किया गया। जिसके चलते कई बार मोटर मालिको द्वारा मोबाइल फोन के जरिए परिवहन विभाग सहित पुलिस के आला अधिकारियों तक शिकायत की गई थी लेकिन भ्रष्ट सिस्टम के चलते इस गैंग के सरगना पर प्रशासन का हंटर नहीं चल पा है देखना यह होगा वायरल वीडियो के बावजूद आला अधिकारी कार्यवाही करते हैं या नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here