जमुरिया नाला व रेठ नदी को अतिक्रमण से मुक्त कराने के संबंध में महंत ने एस डी एम को दिया प्रार्थनापत्र

0
138

 नवाबगंज/बाराबंकी 

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल

जमुरिया नाला व रेठ नदी की भूमि पर दबंगों का कब्जा, हो रहा अतिक्रमण

जगजीवन दास सतनाम सेवा ट्रस्ट नगर पालिका कंपाउंड बाराबंकी द्वारा एसडीएम नवाबगंज को जमुरिया नाला व रेठ नदी को अतिक्रमण से मुक्त करवाने के संबंध में महंत बी पी दास ने प्रार्थना पत्र दिया है।आपको अवगत करा दें बरसात में आधे से अधिक शहर एवं नगर के आस पास का इलाका बरसात के पानी से जल मग्न हो जाता है,सैकड़ों लोग पलायन करने को विवश होते है और अपने घरों की छतो पर पड़ाव करते है। प्रवासियों को बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है नारकीय जीवन इसलिए भोगना पड़ता है क्योंकि जल निकासी की कोई समुचित व्यवस्था नहीं है। बरसात आने को निकट है नदी नाला एवं हरित पट्टिका क्षेत्रों में अवैध कब्जो दारो की वैसी ही भरमार है जबकि अन्य स्थानों पर अतिक्रमण के नाम पर योगी बाबा का बुलडोजर चलाया जा रहा है चर्चा आम है इस बारे में प्रार्थी द्वारा तहसील समाधान दिवस पर 04 06/22 को स्पीड पोस्ट पत्र द्वारा भी नगर वासियों की समस्याओं से अवगत कराते हुए अतिक्रमण हटवाने की मांग की गई है।वही माननीय प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ महाराज सरकारी संपत्ति जमीन तालाब तथा नदियों को अतिक्रमण व अवैध कब्जा मुक्त कराने की बात कह रहे हैं, बाराबंकी में रेठ नदी तट पर अर्थात नदी भूमि पर बड़े मैरिज लान खड़े इतना ही नहीं यही निकट औद्योगिक अवैध प्लाटिंग की जा रही भू माफिया के प्रशासनिक अधिकारियों से गहरे संबंध है चर्चा इस बात की भी है यह कहता है कि हमने बड़े बड़े अधिकारियों को प्लाट दिए हैं मेरा कोई कुछ नहीं कर पाएगा। बाराबंकी में रेठ नदी व जमुरिया नाला एवं हरित पट्टिका तथा औद्योगिक मुक्त कराने की पहल का सर्वथा अभाव भी चर्चा और सवालों में है प्रार्थी ने शहर वासियों को निजात मिल सके इसलिए औद्योगिक आरक्षित भूमि पर प्लाटिंग कार्य की उच्च स्तरीय जांच कराने के लिए मुख्यमंत्री को अवगत कराया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here