बाराबंकी:एसटीएफ लखनऊ ने हैदरगढ़ में रोडवेज बस से बदायूं के एक तस्कर को दो किलो, 380 ग्राम अफीम के साथ दबोचा

0
86

 

रिपोर्ट:-कृष्ण कुमार शुक्ल/आशीष शुक्ल

उत्तरप्रदेश(बाराबंकी) : शनिवार को एसटीएफ लखनऊ ने  तहसील हैदरगढ़ में रोडवेज बस से बदायूं के एक तस्कर को उतार कर दो किलो, 380 ग्राम अफीम बरामद की। पूछताछ में अफीम की तस्करी से जुड़े अन्य लोगों के बारे में भी जानकारी मिली है। एसटीएफ को सूचना मिली थी कि मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले गिरोह का एक सदस्य झारखंड के रांची से मदाक पदार्थ की खेप लेकर हाथरस के सिकंदराराऊ जाने वाला है।

एसटीएफ के उप निरीक्षक वीरेंद्र यादव के नेतृत्व में टीम ने बदायूं जिले के थाना उघैती के ग्राम करियाम्बई के अतर सिंह को लखनऊ-सुल्तानपुर मार्ग स्थित हैदरगढ़ चौराहा पर कोतवाली पुलिस के सहयोग से बस से उतारा। उसकी तलाशी में अफीम मिली। पूछताछ में पता चला कि अतर सिंह के खिलाफ एक दर्जन मुकदमे हैं। उसने यह भी बताया कि दुर्घटना व तस्करी के एक मामले में वर्ष 2002 में जब वह रांची की जेल में बंद था तब उसकी मुलाकात वहां हत्या के आरोप में बंद फौजी से हुई थी। वह अफीम की तस्करी करता था। हाथरस जिले के सिकंदराराऊ के कामिल से भी उसकी दोस्ती हो गई थी। जेल से छूटने के बाद कामिल के साथ मिलकर तस्करी करने लगा। फौजी की पत्नी से अफीम लाकर कामिल को देता था। प्रति चक्कर कामिल से एक लाख रुपये मिलते थे। बनारस से सीतापुर जाने वाली बस का पीछा करते हुए एसटीएफ ने उसे पकड़ लिया। बस को रोकवाने के लिए हैदरगढ़ कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक बृजेश वर्मा ने ट्रकों को रोकवा दिया था।

यह भी पढ़े-

खेत में मिला लापता महिला का शव, पति पर हत्या मुकदमा

देवा (बाराबंकी) : लापता महिला का शव उसके ही खेत में पाया गया। मृतका के भाई ने बहनोई पर हत्या का आरोप लगाया है। देवा थाना के ग्राम देवगांव में रहने वाले राजेश कुमार की 45 वर्षीय पत्नी केतकी गौतम छह मई की सुबह से लापता थीं। प्रभारी पुलिस अधीक्षक व एएसपी उत्तरी पूर्णेंदु सिंह और सीओ आतिश कुमार सिंह ने भी मौके पर पहुंचकर जायजा लिया। मृतक के परिवारजन का आरोप है कि राजेश का किसी महिला से संबंध है, जिसके चलते राजेश ने महिला के साथ मिलकर केतकी की हत्या की है। प्रभारी एसपी ने बताया कि मृतका के भाई शिवनाथ की तहरीर पर पति राजेश कुमार पर हत्या का मुकदमा लिखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here