अपंजीकृत विद्यालय नगर व गांव तक फैले कैसे लगेगी लगाम जिम्मेदार मौन

0
82

हैदर गढ़/बाराबंकी

रिपोर्ट/आशीष मिश्रा

अपंजीकृत विद्यालयों का नगर से लेकर गांव तक जखीरा फैला हुआ है जिसमें विद्यालय संचालित करने वाले विद्यालय जहां बच्चों के जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं तो वही जिम्मेदार सब कुछ जानते हुए भी अंजान बने एक तरफ उत्तर प्रदेश भाजपा सरकार दो के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा साफ तौर पर निर्देश दिए जा रहे हैं कि बिना मान्यता प्राप्त स्कूलों को तत्काल बंद किया जाए लेकिन जिम्मेदार उन निर्देशों को दरकिनार करते नजर आ रहे हैं धड़ल्ले से स्कूल संचालन बिना मान्यता प्राप्त किए चल रहे हैं तहसील हैदरगढ़ क्षेत्र के हैदर गढ़ त्रिवेदीगंज सुबेहा क्षेत्रों में बिना मान्यता प्राप्त विद्यालयों का जाल बिछा हुआ है विकासखंड त्रिवेदीगंज भिलवल, पंडित पुरवा दहिला शिव नाम सहित दर्जनों गांव में छोटे-छोटे स्कूल खोल कर स्कूल संचालक बैठे हैं जिनमें कुछ स्कूलों की मान्यता भी नहीं कुछ स्कूल ऐसे भी दिखे जिनकी मान्यता तो कक्षा 5 तक है लेकिन उन्हें स्कूलों में बच्चे इंटर तक पढ़ने आते हैं जो बच्चों के अभिभावकों से मोटी रकम ली जाती है सूत्रों के मुताबिक इस खेल में कुछ सरकारी स्कूलों के संरक्षण में यह अवैध स्कूल अपने स्कूल का संचालन करते हैं सांठगांठ कर अवैध स्कूल संचालन द्वारा बच्चों के एडमिशन तो सरकारी स्कूल में करवा देते हैं और महंगी फीस लेकर अपने बिना मान्यता प्राप्त स्कूल में बच्चे पढ़ते हैं जिसे कहीं न कहीं बच्चों के अभिभावक की रोजी-रोटी पर इसका सीधा असर पड़ता है कुछ विद्यालय तो भवन के तहखाने में संचालित किए जा रहे हैं जिसका जीता जागता प्रमाण लाही में देखने को मिल सकता है लेकिन विडंबना है कि मुख्यमंत्री के निर्देशों की धज्जियां उड़ाते हुए शिक्षा विभाग के जिम्मेदार अधिकारी सब कुछ जानते हुए भी अनजान बन जाते हैं और अपनी अवैध वसूली के दम पर इन विद्यालयों का संचालन भी कराते हैं जिसकी चर्चा आम जनमानस में जोरों पर है इस संबंध में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताया कि जानकारी नहीं थी अब जानकारी हुई है इन विद्यालयों की जांच करा कर कड़ी कार्यवाही की जाएगी और जो अवैध स्कूल का संचालन कर रहे हैं तत्काल उनको बंद करा दिया जाएगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here