संजय सेतु पुल के मरम्मत कार्य की वजह से कई घंटों लगा रहा जाम

0
101

रामनगर/बाराबंकी

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल

42 वर्ष पुराने पुल में तीन वर्ष से हो रहा मरम्मत कार्य ,चार किलोमीटर के जाम में सैकड़ो गाड़ियां व एम्बुलेंस रही फँसी
 बाराबंकी बहराइच जनपद की सीमा सरयू नदी पर स्थित संजय सेतु पुल पर बीते सोमवार से मरम्मत का कार्य जारी था।जिससे पुल के दोनो ओर राजमार्ग पर कई किलोमीटर लंबा जाम लगा रहा।लगभग एक किलोमीटर लंबा ये सेतु कई हिस्सों में बना है जिसमे लगे उपकरणों को पिछले तीन वर्षों से हर वर्ष बदला जा रहा है।जिसके चलते भीषण जाम की स्थित उत्पन्न होती है मंगलवार की रात्रि करीब आठ बजे से लगा जाम बुधवार दोपहर तक नही छूटा जिससे मुसाफिरों को इस चिलचिलाती गर्मी में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।घाघरा घाट से रामनगर तक लगे जाम में सैकड़ों गाड़ियां व एम्बुलेंस घंटों फसी रही।जबकि पहले कभी भी ऐसा नहीं होता था चूंकि ओवरलोड भारी वाहन टोल बचाने व पुलिस से बचने के चक्कर में निर्धारित गति से तेज गति में पुल पार करते हैं।जिससे पुल की मशीनरी बुरी तरह प्रभावित होती है और एक वर्ष में दो तीन बार उसे बदलना पड़ता है।पुलिसकर्मियों के द्वारा एक साइड को रोककर गाड़ियां धीरे धीरे निकाली गई तब जाकर एंबुलेंस को निकला गया।सरकार द्वारा संजय सेतु के बगल में एक और पुल निर्माण की घोषणा की गई है।किंतु इतने लंबे पुल के बनने में कई सालों का समय लगेगा।अब जरूरत इस बात की है कि जब तक दूसरा पुल तैयार नहीं हो जाता तब तक पुल के निकट पुलिस बैरियर को बना कर धीमी गति से भरी वाहनों को नदी पार कराया जाए।चूंकि गोंडा बहराइच श्रावस्ती बलरामपुर आदि जनपदों व पड़ोसी देश नेपाल से इस हाईवे पर भारी आवागमन होता है पुल के ध्वस्त हो जाने से जनमानस को भारी दिक्कतें होंगी व इस सड़क मार्ग से वाहनों द्वारा बाराबंकी को पहुंचना असंभव होगा।42 वर्ष पुराने इस पुल को जिन मानकों पर बनाया गया था उसकी क्षमता से अधिक वजन एवं रफ्तार को ये पुल अब शायद ही झेल पाए।इसलिए इस अति आवश्यक पुल की सुरक्षा के दृष्टिगत चौबीसों घंटे पुल की निगरानी अनिवार्य हो गई है सुरक्षित आवागमन एवं दुर्घटना से होने वाली भारी जनहानि को नजरंदाज करना भविष्य में बड़ी घटना का कारण बन सकता है।विदित हो की इसी ब्रिज के उस पार निकास द्वार पर बहराइच जनपद के प्रशासन द्वारा पुलिस चौकी की स्थापना कई वर्ष पूर्व ही कर दी गई थी जबकि बहराइच जनपद से आते समय अधिकतर भारी वाहन खाली ही आते हैं।लेकिन बाराबंकी जिले से पुल में प्रवेश करने वाले सभी बड़े ट्रक डंफर आदि तेज रफ्तार ओवरलोड होते हैं जिनकी तेज रफ्तार ही पुल का विनाश कर रही है।रामनगर थाना प्रभारी संतोष सिंह ने बताया कि मंगलवार से ही पुल का मरम्मत कार्य किया जा रहा है जिससे एक साइड की गाड़ियां निकाली जा रही है।जिसकी वजह से जाम की स्थिति उत्पन्न हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here