सी.एच.सी. रामनगर की व्यवस्थाएं आधी अधूरी,मरीज दर-दर भटकने को मजबूर

0
195

रामनगर/बाराबंकी

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल/विवेक शुक्ल


सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामनगर में मरीजों के लिए व्यवस्थाओं का टोटा है जिससे गरीब मरीजों के लिए बड़ी समस्या अस्पताल में एक्स-रे और अल्ट्रासाउंड की मशीन न होने के कारण बनी हुई हैं।क्षेत्र से लेकर घाघरा की तराई तक के लोग रामनगर अस्पताल में इलाज करवाने तो आते हैं परंतु जांच के नाम पर उन्हें निजी पैथोलॉजी का ही सहारा लेना पड़ता है जिससे मरीज और अल्ट्रासाउंड के नाम पर निजी पैथालॉजियों में मोटी रकम देकर जांच करवाने के लिए मजबूर होते हैं।सामान्य मरीजों के अलावा समस्याएं वहां पर प्रबल हो जाती हैं जब कोई गर्भवती महिला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र 102 या कोई दुर्घटना से पीड़ित व्यक्ति 108 की मदद से अस्पताल तो पहुंच जाता है परंतु जांच के लिए उसे बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है क्योंकि उस व्यक्ति के पास जब साधन ना हो और उसे पैदल चलकर निजी पैथोलॉजी तक जाना पड़े और बाद इसके पास पैसा भी न हो ऐसी स्थिति में मरीजों को दर-दर भटकना पड़ता है।
बताते चलें महंत श्री योगी आदित्यनाथ की पूर्ववर्ती सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रहे सिद्धार्थनाथ सिंह महीनों पूर्व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामनगर को निरीक्षण पर पहुंचे थे और तब श्री सिंह से क्षेत्रीय जनमानस ने अस्पताल में अल्ट्रासाउंड व एक्सरे मशीन ना होने की बात कही थी जिस पर पूर्व मंत्री ने जल्द से जल्द अल्ट्रासाउंड और एक्सरे मशीन लगवाने का दावा किया था परंतु आज तक स्वास्थ्य की जांच की मशीनें उपलब्ध नहीं हो पाई जो कि पूर्व मंत्री का दावा अब तक खोखला साबित हो रहा है।जिससे मरीजों को बराबर बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।अब देखना यह है नायक फिल्म के अनिल कपूर की तरह दोबारा उप मुख्यमंत्री बने बृजेश पाठक के पास अब स्वास्थ्य विभाग है और वह बराबर मरीजों का ख्याल रख रहे हैं।पूर्व में वह किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी लखनऊ,लोहिया संस्थान लखनऊ और बीते सोमवार एकाएक वो एक मरीज की तरह बाराबंकी जिला अस्पताल पहुंचे थे।जहां उपमुख्यमंत्री के जिला अस्पताल पहुंचने से जिले में हड़कंप मच गया था पत्रकारों के सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि सभी अस्पतालों की व्यवस्थाएं बहुत जल्द दुरुस्त होगी,लापरवाह स्वास्थ्य अधिकारियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा।अब देखना यह है कि क्या रामनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में अल्ट्रासाउंड व एक्सरे मशीनें लगेंगी या पूर्व की भांति मरीज दर-दर भटकते ही रहेंगे।वही पूरे मामले पर जब हमारे संवाददाता ने सीएचसी अधीक्षक रामनगर अविचल भटनागर से बात की तो उन्होंने कहा जांच मशीनों के बारे में पूर्व में कई बार विभाग को लिखित रूप से अवगत कराया जा चुका है परंतु अभी तक विभाग से जांच की मशीनें उपलब्ध नहीं हो सकी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here