श्रीमद् भागवत कथा का विशाल भंडारे के साथ हुआ समापन

0
396

 

कन्या भोज हवन पूजन कर लेखराज गिरी महाराज ने कथा का किया समापन

रिपोर्ट:-कृष्ण कुमार शुक्ल/विवेक शुक्ल

गनेशपुर(बाराबंकी) बुधवार को दस दिवसीय विराट संगीतमय कथा श्रीमद् भागवत महापुराण का समापन विशाल भंडारे के साथ किया गया श्रीमद् भागवत कथा मीतपुर के शिव मंदिर के पास हुई जिसमें सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं ने कथा सुनकर पुण्य अर्जित किया।लेखराज गिरी महाराज जिनको प्यार से लोग (पागल जी) कहते हैं उन्होंने कहा जीवन में जो भी करो पूरे समर्पण के साथ करो। प्रेम करो तो मीरा की तरह प्रतीक्षा करो तो शबरी की तरह भक्ति करो तो हनुमान की तरह शिष्य बनो तो अर्जुन की तरह और मित्र बनो तो कृष्ण की तरह।बुधवार को मीतपुर में चल रही श्री मद भागवत कथा के अंतिम दिन अयोध्या धाम से पधारे लेखराज गिरि महाराज ने पंडाल में उपस्थित सैकड़ो भक्तों से कहीं।उन्होंने आगे कहा कि हम सभी को आपसी ईर्ष्या द्वेष भूला कर सदैव मानव कल्याण के लिए कार्य करना चाहिए।लेखराज गिरी महाराज ने भागवत कथा की समाप्ति के बाद हवन पूजन कन्या भोज कर विशाल भंडारे के साथ समापन किया। विशाल भंडारे में मीतपुर के युवाओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया भंडारे में नीचे दरी बिछाकर भारतीय संस्कृति के अनुसार भक्तों ने पालथी लगाकर प्रसाद ग्रहण किया। लेखराज गिरी महाराज ने विधिवत मंच से संचालन कर जयकारे लगाते हुए विशाल भंडारे का आयोजन किया।कलश यात्रा के साथ शुरू हुई इस भागवत कथा के कार्यक्रम में मुख्य वक्ता गिरी महाराज ने श्री कृष्ण जन्मोत्सव से लेकर गोपियों के संग रास रचाने रुक्मणी विवाह ,सुदामा चरित्र ,कंस वध का विस्तृत वर्णन किया।और साथ ही सजीव झांकियां भी दिखाई।अंतिम दिन पूरे क्षेत्र के लोगों ने हवन पूजन में भाग लिया।जिसके बाद आयोजित भंडारे में कन्याभोज के उपरांत विशाल भंडारे में हजारों की संख्या में लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया।इस अवसर पर भागवत कथा के जजमान गिन्नी लाल त्रिवेदी,मनोज मिश्र, अधिवक्ता सुरेश मिश्र,क्षेत्र पंचायत सदस्य प्रतिनिधि मीतपुर राजेश त्रिवेदी, कैलाश नाथ त्रिवेदी,सुशील कुमार त्रिवेदी,मीतपुर पूर्व प्रधान रिंकू त्रिवेदी, राजकेष मिश्र,मूलचंद्र अवस्थी,गौरव, रोहित, गोलू ,कपिल मिश्रा,पत्रकार सुधीर मिश्र पत्रकार मोहित अवस्थी सुभम त्रिवेदी,सुधीर शुक्ल,राज शुक्ल,सुशील शुक्ल अतुल मिश्र सहित हजारों की संख्या में भक्तो ने प्रसाद ग्रहण किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here