ईमानदार सीएमओ की छवि धूमिल करने में जुटे हैं सी एच सी कर्मचारी, जिला अधिकारी से शिकायत

0
151

हैदरगढ़/बाराबंकी

रिपोर्ट/आशीष मिश्रा

प्रशासनिक व्यवस्था की धज्जियां उड़ाते हुए नियमों को ताक पर रखकर सोर्स सिफारिश चढ़ावा के दम पर शासन के निर्देशों की धज्जियां उड़ाना कर्मचारी के लिए एक आम बात हो गई ऐसे में सवाल उठता है कि बाराबंकी के तेजतर्रार इमानदार सीएमओ डॉक्टर राम जी वर्मा के इमानदारी के सिस्टम को उनके ही अधीनस्थ कर्मचारी क्यों उड़ाने में जुटे हैं आए दिन हो रही शिकायतों को नजरअंदाज कर सीएचसी अधीक्षक की छत्रछाया में पल रहे वार्ड बॉय पर अंकुश क्यों नहीं लग पा रहा सीएचसी अधीक्षक की छत्रछाया में पल रहे सीएचसी हैदर गढ़ में तैनात चर्चित वार्ड बॉय कि स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता ने जिलाधिकारी से शिकायत की शिकायतकर्ता अखिलेश कुमार द्वारा बताया गया कि सीएचसी हैदरगढ़ में तैनात वार्ड बाय बद्री विशाल जो सिस्टम के दम पर निरंतर 20 वर्षों से हैदर गढ़ में ही जमे हैं कई बार उनकी शिकायतें हुई लेकिन चढ़ावा व सिस्टम के दम पर वह आज भी सीएससी हैदरगढ़ में भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रहे हैं सीएससी हमें कभी ड्यूटी ना करने वाले यह वॉर्ड बाय अक्सर चर्चा में रहते हैं इनके कारनामों की फेहरिस्त लंबी है चाहे आशा संगिनी की कोई भर्ती रही हो या सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हैदर गढ़ में संविदा पर किसी की तैनाती हर जगह पर इन्हीं महाशय का बोलबाला चलता आ रहा है सूत्र तो यहां तक बताते हैं कि हैदर गढ़ में अस्पताल संबंधित समस्त लीगल व अन लीगल क्रियाकलाप इन्हें की छत्रछाया से निपट जाते हैं अधीक्षक के चहेते उक्त महाशय द्वारा मरीजों का सफर करना एक आम बात हो गई शिकायतकर्ता ने बताया कि जिलाधिकारी को भेजे गए पत्र में मांग की गई है कि उक्त वार्ड बॉय की सर्विस अवध की जांच करा कर इन को स्थानांतरित किया जाए व इन की संपूर्ण जांच कराई जाए जिससे प्रदेश सरकार के भ्रष्टाचार मुक्त नीति को असली जामा पहनाया जा सके ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर सीएचसी अधीक्षक यह सब जानते हुए भी अनजान क्यों है यह भी लोगों में एक भी अच्छी प्रश्न बना है वैसे तो बाराबंकी के ईमानदार सीएमओ द्वारा समय-समय पर अवैध तरीकों व भ्रष्टाचार में संलिप्त कर्मचारियों पर कार्यवाही की जाती रही है देखना दिलचस्प होगा कि उक्त भ्रष्टाचार में सम्मिलित कर्मचारी पर कार्यवाही कब होगी फिलहाल शिकायतकर्ता ने जिलाधिकारी को पत्र भेजकर मामले की जांच कराकर कड़ी कार्यवाही करने की मांग की है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here