बिना निविदा सूचना के द्वारा संचालित हो रहा रोडवेज अनुबंधित गुप्ता ढाबा

0
142

रिपोर्ट:-कृष्ण कुमार शुक्ल/विवेक शुक्ल
रामनगर बाराबंकी। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जनपद में परिवहन विभाग द्वारा अनुबंधित करके दो परिवहन यात्री प्लाजा का संचालन किया गया लेकिन रामनगर से 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित गुप्ता यात्री प्लाजा बिना निविदा अनुबंध के चल रहा है।

परिवहन विभाग बेखबर है। उत्तर प्रदेश परिवहन निगम विभाग द्वारा यात्रियों के खान पान के दृष्टिगत रामनगर क्षेत्र में दो व्यापारियों के साथ अनुबंधित यात्री प्लाजा का अनुबंध किया गया था।यात्री प्लाजा के खुलते ही बसों का ठहराव होने लगा अभी कुछ महीने बीते थे कि देवीपाटन मंडल के क्षेत्रीय प्रबंधक द्वारा इसी मार्ग पर लगभग दस किलोमीटर की दूरी पर बहराइच जिले में जरवल व घाघरा घाट के मध्य बिना निविदा प्रकाशित किए नियम के विपरीत एक और यात्री प्लाजा का संचालन करवा दिया गया।एक और प्लाजा के खुलने का कारण बस इतना है कि सरकारी अनुबंध हो जाने से बसें रामनगर में रुकने लगी और पैसा सरकारी खजाने में जमा किया जाने लगा।एक ओर जहां क्षेत्रीय प्रबंधक देवीपाटन को घाघरा पार के ढाबों से मिलने वाला सुविधा शुल्क बंद हो गया वहीं दूसरी ओर चालक परिचालक जोकि ढाबा संचालकों से मिलकर सरकारी बसों से डीजल चोरी करते थे वो भी बंद हो गई।अब चालक परिचालक व ढाबा संचालकों सहित महाभ्रष्ट अधिकारियों के रूप में पूरे देवीपाटन मंडल में चर्चित आरएम प्रभाकर मिश्र की अतिरिक्त लाखों की आय बंद हो गई।प्रभाकर मिश्र द्वारा यात्री प्लाजा संचालक से प्रति बस के हिसाब से धन की अतिरिक्त मांग की गई जिस पर संचालक ने हाथ खड़े कर लिए व बसों से डीजल खरीदने को मना कर दिया।हारकर रामनगर के संचालकों को परेशान करने के लिए व कर्मचारियों अधिकारियों की डीजल चोरी की काली कमाई को जारी रखने के लिए घाघरा घाट के एक ढाबा संचालक से दूने रेट पर टेंडर डलवाया गया व गाड़ियों का ठहराव शुरू कराया गया।महीनो से बंद डीजल चोरी पुनः शुरू हो गई जरवल रोड से लेकर गणेशपुर कस्बे तक बसों से निकाला गया तेल फिर बिकने लगा है तेल की सप्लाई रात्रि में कार से की जाती है।इस काले कारोबार में लिप्त लोग आटा चक्की आरा मशीन ट्रैक्टर पंपिंग सेट जनरेटर ढाबों आदि में रोजाना प्रयोग कर रहे लोगों को समय से डीजल की डिलीवरी करते हैं जोकि पेट्रोल पंप से कुछ कम कीमत पर पहुंचाते हैं।सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक घाघराघाट के ढाबों पर लगभग दो हजार लीटर डीजल रोज निकाला जाता है।वही परेशान होकर रामनगर क्षेत्र के परिवहन यात्री प्लाजा के संचालक ने उच्च अधिकारियों से मिलकर लिखित रूप में अपनी परेशानी बताई व तमाम लोगों सहित अपनी जीविका को बचाने की गुहार लगाई है।देवीपाटन मंडल आर एम प्रभाकर मिश्रा से जब बाराबंकी संवाददाता ने बात की और कहा बिना अनुबंधित यात्री प्लाजा क्यों चल रहे हैं उस पर प्रभाकर मिश्र ने चुप्पी साधी और कहा मुझसे व्हाट्सएप पर बात करो मैंने कहा यह बिना अनुबंधित गुप्ता ढाबे क्यों चल रहे हैं धड़ल्ले से क्योंकि जब अनुबंधित ढाबे जब चल रहे हैं तो उन ढाबो पर क्या होता है इस पर उन्होंने कुछ नहीं कहा और फोन काट दिया। इस संबंध में जब प्रधान प्रबंधक संचालन परिवहन निगम लखनऊ से बात हुई तो उन्होंने कहा अगर बिना अनुबंध के यात्री प्लाजा चल रहे हैं तो उनको देख लिया जाएगा।आपको बता दें महा भ्रष्ट अधिकारियों की कार्यशैली से ऐसे ढाबों पर अतिरिक्त वसूली की जाती है और जो अनुबंधित ढाबा हैं उनको इग्नोर करते हैं यह सरेआम भ्रष्टाचार का खेल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here