महादेवा के बाग में कूड़े के ढेर जलाकर पर्यावरण किया जा रहा दूषित

0
165

रामनगर/बाराबंकी

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल

सफाई के नाम पर पूरी की जा रही औपचारिकताएं


रामनगर तहसील के लोधेश्वर महादेवा महाशिवरात्रि मेला की समाप्ति के बाद मेला परिसर सहित पूरे महादेवा क्षेत्र में सड़के व मैदान में कूड़ा-करकट,पन्नियों,गंदगी के ढेर से पटे पड़े हैं I इस संबंध में स्थानीय मीडिया द्वारा लगातार खबरें प्रकाशित की गई तब जाकर सूरतगंज ब्लाक के प्रशासनिक अधिकारी कुंभकर्णी नींद से जागे और आनन-फानन में आधा दर्जन से अधिक सफाई कर्मियों को भेज कर उन कूडे के ढेरों को जलवा दिया I जलाए गए कूडे-करकट के ढेर से उठने वाले धुआँ पूरे महादेवा क्षेत्र में फैल गया ,जिससे लोगों को सांस लेना मुहाल हो गया I उस समय स्थिति और बिगड़ गई जब दोपहर को पछुआ हवा चलने लगी जिससे पूरे महादेवा क्षेत्र व आस पास धुआं फैलने से धुंध सी छा गई Iक्षेत्र में धुआं फैलने से दमा और अस्थमा से पीड़ित मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। कई स्थानीय निवासियों का कहना है कि यदि इन कूड़े के ढेरों को प्रशासन उठवा कर कहीं गड्ढे आदि में डलवा कर पटवा दिया जाता तो यह समस्या न होती Iलोगों में यह भी चर्चा है कि प्रशासन द्वारा इस तरह से कूडे के जलने से फैलने वाले धुएँ से पर्यावरण प्रदूषित होता है I क्या इस धुएं से उत्सर्जित होने वाली गैसों से ओजोन परत को क्षति नहीं पहुंचेगी ? यदि किसान पराली जलाते हैं तो प्रशासनिक लोग उन पर मुकदमा दर्ज करा देते हैं ,इस तरह से खुलेआम कूड़ा जलाने पर सरकार इन पर कोई कार्रवाई करेगी या नहीं, यह क्षेत्र के प्रबुद्ध वर्ग में चर्चा का विषय बना हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here