महाशिवरात्रि पर्व पर लाखों कावड़ियों ने जलाभिषेक कर किया दर्शन

0
292

कमिशनर नवनीत रिनवा व आईजी कवींद्र सिंह ने महादेवा मेला का किया भ्रमण

रिपोर्ट:-कृष्ण कुमार शुक्ल/शोभित शुक्ल

महादेवा (बाराबंकी): उत्तरप्रदेश में विख्यात बाराबंकी के रामनगर के लोधेश्वर महादेवा के फाल्गुनी शिवरात्रि मेले में लाखों कांवरियों ने पूंजन अर्चन कर जलाभिषेक किया। श्री लोधेश्वर महादेवा मंदिर में मंगलवार को महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। इस बीच मेला प्रांगण में दो किलो मीटर लंबी कतार में लगकर कांवड़ श्रद्धालुओं ने गंगाजल से भोलेनाथ का जलाभिषेक किया तो मंदिर परिसर आस्था से ओत प्रोत हो उठा। हर तरफ बोल बम और हर हर महादेव के उद्घोष से तीर्थ नगरी पूरी तरह से शिवमय हो उठी। प्रशासन ने महाशिवरात्रि पर करीब 10 लाख श्रद्धालुओं के जलाभिषेक करने का अनुमान लगाया है।आयोध्या कमिश्नर नवनीत रिनवा,आईजी के पी सिंह,डीएम डॉ.आदर्श सिंह व एसपी अनुराग वत्स ने मेला परिसर का जायजा लिया।महाशिवरात्रि की पूर्व संध्या से ही जलाभिषेक का सिलसिला शुरू हो गया था। इसके लिए प्रशासन की ओर से महाशिवरात्रि पर जुटने वाली अप्रत्याशित भीड़ का अनुमान लगाते हुए पहले से सारी तैयारियां पूरी कर ली गई थी, ताकि श्रद्धालुओं को कतार में परेशानियों का सामना न करना पड़े। कांवड़ियों की भीड़ को नियंत्रण करने और सुरक्षा व्यवस्था को कायम रखने के लिए पुलिस प्रशासन रात से ही मुस्तैद दिखा। जलाभिषेक की लंबी कतार के बाद भी शिवभक्त दौड़ते-झूमते, गाते-नाचते और बोल बम का जयकारा लगाते आस्था के पथ पर बढ़ते रहे। भक्तों की भीड़ का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि रात 12 बजे से शाम छह बजे तक पांच लाख से अधिक कांवड़िये जलाभिषेक कर चुके थे।इसके बाद भी जलाभिषेक का सिलसिला देर शाम तक चलता रहा। एएसपी पूणेन्दु सिंह ने बताया कि महाशिवरात्रि पर करीब दस लाख श्रद्धालुओं के अभिषेक करने का अनुमान लगाया गया है।
*महादेवा में मेले की भीड़ का पिछला रिकार्ड टूटा*
महाशिवरात्रि पर भगवान शिव के जलाभिषेक का रेकॉर्ड इस बार टूट गया। पिछले वर्षों के आकड़ों पर गौर करें तो इस बार जलाभिषेक के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुटी। दोपहर में भीड़ बढ़ने पर फोर्स और बुलानी पड़ी। एएसपी पूणेंदु सिंह पूरा दिन सुरक्षा व्यस्था का जायजा लेते रहे। एडिशनल एसपी ने पूरे मेला पर नजर बनाए रखी चारों तरफ पुलिस व्यवस्था चाक-चौबंद की।आयोध्या कमिश्नर नवनीत रिनवा,आईजी के पी सिंह, ने सबसे पहले लोधेश्वर महादेवा के दर्शन किए और पीछे के मुख्य द्वार से निकलकर मेला परिसर में जाकर अभरण तालाब का जायजा लिया पूरी पुलिस फोर्स सलामी देती रही पूरे मेले का भ्रमण किया खोया पाया केंद्र पर जो मेले में बिछड़ जाते है उन लोगों को मिलाने का काम महिला कांस्टेबल कर रही थी
संवाददाता ने कमिश्नर व आई जी से पूछा कि इतना बड़ा मेला होता है अगर इसको मेला अधिनियम में अगर जोड़ दिया जाए तो मेले की सारी तैयारियां पूरी हो जाएंगी।तो उन्होंने कहा बात की जाएगी आने वाले वर्षों में और बेहतर व्यवस्था की जाएगी उन्होंने कहा हम पहली बार आये है ये जिला मजिस्ट्रेट जानते है लेकिन पूरा प्रयास किया जाएगा मेला अधिनियम में लाने की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here