पुलिस ने सुहैल हत्याकांड का किया पर्दाफाश,दो हत्याभियुक्त गिरफ्तार

0
168

जनपद/बाराबंकी

बीती 24 फरवरी को देर रात्रि जिले के मसौली थाना अंतर्गत हुए सुहैल हत्याकांड का खुलासा करते हुए थाना मसौली पुलिस ने हत्याकाण्ड से सम्बन्धित दो हत्याभियुक्तों को गिरफ्तार करने के साथ घटना में इस्तेमाल मोटर साइकिल व आलाकत्ल को बरामद करते हुए जेल भेज दिया।
प्रभारी निरीक्षक मसौली पंकज कुमार सिंह ने बताया कि दिनांक 24.02.2022 को एक व्यक्ति ने थाना मसौली पर सूचना दी कि वह और उसके साथ दो अन्य लोग थाना मसौली क्षेत्रान्तर्गत नहर के किनारे बैठकर पार्टी कर रहे थे। तभी उन्ही मित्रों में एक मित्र चन्दन मिश्रा ने साथ में बैठे दूसरे व्यक्ति का बेरहमी से बांके से गला काट दिया व शव चौपुला नहर में डाल दिया। उक्त सूचना पर उच्चाधिकारियों व थाना मसौली पुलिस द्वारा तत्काल घटना स्थल का निरीक्षण कर आवश्यक कार्यवाही की गई थी।
शिनाख़्त की के दौरान जाबिर पुत्र मुन्ना उर्फ इकबाल हुसैन निवासी लखपेड़ाबाग निकट भावानी नीम मन्दिर कोतवाली नगर जनपद बाराबंकी द्वारा मृतक की पहचान अपने भाई सुहेल के रुप में की गई। वादी जाबिर द्वारा थाना मसौली पर विपक्षीगण द्वारा हत्या कर शव को नहर में छिपाने के उद्देश्य से फेंकने के सम्बन्ध में दी गयी तहरीर के आधार पर मु0अ0सं0 71/2022 धारा 302/201/34 भादवि बनाम चन्दन मिश्रा व आदित्य भारती उर्फ मोनू पंजीकृत किया गया ।थाना मसौली पुलिस टीम द्वारा बीते शुक्रवार को अभियुक्तगण चन्दन मिश्रा पुत्र चिरंजीवीलाल मिश्रा निवासी परसपूर बिन्दौरा थाना रामनगर वर्तमान पता लक्ष्मणपुरी कालोनी निकट लक्ष्मणेश्वर महादेव मन्दिर व आदित्य भारती उर्फ मोनू पुत्र वंशीलाल भारती निवासी गगौरा थाना मोहम्मदपुर खाला वर्तमान पता लखपेड़ाबाग निकट मलिक मैरिज लान थाना कोतवाली नगर जनपद बाराबंकी को गिरफ्तार कर अभियुक्तगण की निशांदेही पर कत्ल में प्रयुक्त बांका व घटना में एक अदद मोटर साइकिल बरामद किया गया । पूछताछ के दौरान सामने आया कि मृतक व गिरफ्तार अभियुक्त आपस मे दोस्त थे और तीनों लोग व्हाइटनर व शराब का नशा करने के आदि थे। पूछताछ के दौरान तीनो के बीच अप्राकृतिक सम्बन्ध होने की बात भी सामने आयी है। जिसका वीडियो सुहैल सबको दिखाने की बात कर रहा था। घटना वाले दिन भी तीनो ने चौपला नहर के किनारे व्हाइटनर का नशा किया। फिर शराब का सेवन करने के बाद किसी बात पर हुए विवाद में चन्दन मिश्रा और आदित्य भारती उर्फ मोनू ने सुहैल का गला रेत कर हत्या कर दी। शव को चौपला नहर में फेंक दोनो ने अपने रक्तरंजित कपड़े व आला क़त्ल वही थोड़ी दूर झाड़ियों में छिपा दिया। पुलिस के मुताबिक पकड़े जाने के भय से आदित्य भारती उर्फ मोनू ने अपने परिजनों के माध्यम से पुलिस को चंदन मिश्रा द्वारा हत्या की सूचना देकर गुमराह करने का प्रयास किया। लेकिन प्रभारी निरीक्षक मसौली पंकज कुमार सिंह, व0उ0नि0 रामकृपाल सिंह, उ0नि0 अब्दुल रहमान खां, उ0नि0 सुधीर कुमार यादव, हे0का0 पप्पू कुमार, का0 दीपक कुमार, का0 जितेन्द्र कुमार, चा0का0 रामप्रकाश की टीम ने जब हत्यारोपी चन्दन मिश्रा को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो हत्याकांड की सारी परते एक के बाद एक खुलती चली गयी।

ब्यूरो रिपोर्ट– शोभित शुक्ला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here