संजय सेतु पुल में आई दरारें दुर्घटनाओं को दे रही दावत,जिम्मेदार मौन

0
392

रामनगर/बाराबंकी

सूबे की राजधानी लखनऊ से बहराइच को जोड़ने वाले संजय सेतु पुल के अप्रोचों में बड़ी-बड़ी दरार होने से आने जाने वाले वाहनों को दोहरी सड़क दुर्घटना को दावत दे रहे हैं। बीते विगत वर्षों पहले एक डीसीएम संजय सेतु पुल से नीचे गिर गई उसमें सवार बिहार से आ रहे कई व्यक्तियो की मौत भी हो गयी थी।लेकिन पुल के संरक्षण सुरक्षा व मरम्मत कार्य में लगे जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारियों की अनदेखी के चलते खराब मौसम व पुल पर बने दरारों की वजह से किसी अनहोनी के होने का दोबारा संकेत दे रहे।प्राप्त जानकारी के अनुसार जनपद बाराबंकी व बहराइच की सीमा पर बने सरयू नदी घाघरा के पुल के अप्रोचों के मरम्मत का कार्य नहीं किए जाने के चलते उसमें दरारें हो गई हैं । उन दरारों में बड़ी-बड़ी लोहे की राडे निकली हुई है ।जिसके चलते पुल पार करने वाले वाहनों के टकराव होने से धमक होता है । लोहे की रॉड से वाहन के पंचर होने की संभावना अधिक बनी हुई है। यदि ऐसा हुआ तो सड़क हादसे के साथ वाहन अपना संतुलन खो कर नदी में गिर सकते हैं। जिसके चलते एक बहुत बड़ी घटना घटित हो जाएगी। लग रहा है कि जिम्मेदार लोग किसी बड़ी दुर्घटना होने का इंतजार कर रहे हैं।भारत से सड़क मार्ग द्वारा पड़ोसी देश नेपाल को जोड़ने वाला यही एकमात्र सीधा रास्ता है। जिस पर प्रतिदिन बहराइच श्रावस्ती गोंडा बलरामपुर बस्ती गोरखपुर बाराबंकी लखनऊ कानपुर उन्नाव उरई जालौन महोबा उतरौला रायबरेली प्रयाग दिल्ली सहित प्रदेश व देश के कोने कोने तक के वाहनों का आवागमन व जुड़ाव होता है।

रिपोर्ट/कृष्ण कुमार शुक्ल/विवेक शुक्ल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here