Naradsamvad

सरयू नदी खतरे के निशान से नीचे हेतमापुर में बाढ़ राहत बचाव कार्य जारी

 

रिपोर्ट/वाइस एडिटर के के शुक्ल/सतीश कुमार

ब्यूरो बाराबंकी। ज़िलाधिकारी अविनाश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि जनपद में बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में बचाव एवं राहत कार्य पूरी सतर्कता एवं संवेदनशीलता के साथ सम्पादित कराए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन कार्यों का नियमित अनुश्रवण भी किया जा रहा है। ज़िलाधिकारी ने बताया कि सभी सम्बंधित उप ज़िलाधिकारियों को एलर्ट पर रहने के लिए निर्देशित किया गया है।उप ज़िलाधिकारी, राम सनेही घाट ने बताया कि उनके क्षेत्र में पानी लगातार घट रहा है। बाढ़ के पानी से आबादी के क्षेत्र प्रभावित नहीं हुए हैं। उप ज़िलाधिकारी सिरौली गौसपुर ने बताया कि इनके क्षेत्र में सरयू नदी का जलस्तर खतरे के निशान से नीचे चला गया है।गांवों के रास्तों पर आवागमन सामान्य रूप से चल रहा है और आबादी क्षेत्र बाढ़ के पानी से प्रभावित नहीं है। उप जिलाधिकारी, रामनगर अनुराग सिंह ने बताया कि हेतमापुर में आज भी लगातार राहत कार्य जारी रहा। बाढ़ की स्थिति नियंत्रण में है। बाढ़ से प्रभावित आबादी-6241, दोनों पाली में वितरित होने वाले लंच पैकेट की संख्या-6804
नाव संचालन-49 साथ ही क्षेत्रीय नायब तहसीलदार शैलेश पांडेय मौके पर मौजूद रहे। घाघरा का जलस्तर कल की तुलना में घटा है जिसकी वजह से सरसंडा नई बस्ती में कटान शुरू है। अधिशासी अभियंता बाढ़ कार्यखण्ड को अपेक्षित उपाय करने के लिए सूचित कर दिया गया है। हेतमापुर बांध पर राहत शिविरों में बतनेरा, हेतमापुर, सरसंडा,डिहुवा, बेलहरी मजरे बतनेरा, जमका के मजरो के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का विस्तृत निरीक्षण किया गया तथा बाढ़ ड्यूटी पर तैनात संबधित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। रात्रि में समुचित प्रकाश की व्यवस्था है तथा चिकित्सा आदि अन्य सुविधाओं की भी व्यवस्था उपलब्ध है।

अन्य खबरे

गोल्ड एंड सिल्वर

Our Visitors

37335
Total Visitors
error: Content is protected !!